MDSU: बैठे हैं जवाब के इंतजार में, इस सप्ताह भरवाएंगे परीक्षा फार्म

बीकानेर की महाराजा गंगासिंह यूनिवर्सिटी को पत्र भेजकर लखनऊ की फर्म की जानकारी देने को कहा था। लेकिन यूनिवर्सिटी ने चार दिन बिता दिए।

By: raktim tiwari

Updated: 12 Apr 2021, 08:44 AM IST

अजमेर.

महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय के सालाना परीक्षा फॉर्म अगले सप्ताह भरने शुरू होंगे। विवि संभवत: 13 से 15 अप्रेल के बीच फॉर्म भरवाना प्रारंभ कर सकता है। बीकानेर की महाराजा गंगासिंह यूनिवर्सिटी द्वारा फर्म की तकनीकी जांच संबंधित पत्र भेजने में देरी के कारण परेशानियां कायम हैं।

विवि को सत्र 2020-21 की सालाना परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरवाने हैं। निविदा में लखनऊ की फर्म को कामकाज सौंपा गया। लेकिन स्थानीय फर्म ने लखनऊ की फर्म के कामकाज पर सवालिया निशान लगाते हुए अजमेर की स्थानीय कंप्यूटर फर्म ने कुलपति और प्रशासन को शिकायत भेजी। इसको लेकर परीक्षा नियंत्रक, कुलसचिव और अर्थशास्त्र विभागाध्यक्ष की कमेटी ने जांच की।

विलंब से पहुंचा पत्र
जांच कमेटी ने बीकानेर की महाराजा गंगासिंह यूनिवर्सिटी को पत्र भेजकर लखनऊ की फर्म की जानकारी देने को कहा था। लेकिन यूनिवर्सिटी ने चार दिन बिता दिए। यह पत्र शुक्रवार को विश्वविद्यालय भेजा गया। अब भरवाएंगे फार्मकुलसचिव भागीरथ सोनी ने बताया कि ऑनलाइन परीक्षा फार्म अगले सप्ताह से भरवाए जाएंगे। इसका विधिवत कार्यक्रम सोमवार को जारी किया जाएगा। मालूम हो कि विवि सहित सम्बद्ध कॉलेज में 3.50 लाख से ज्यादा विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। इनमें नागौर, टोंक, भीलवाड़ा और अजमेर के विद्यार्थी शामिल हैं।

सबसे लेटलतीफ विश्वविद्यालय
परीक्षा फार्म भरवाने के मामले में राज्य में मदस विश्वविद्यालय सबसे पीछे है। राज्य के अन्य विश्वविद्यालय कामकाज खत्म कर चुके हैं। कई विवि में प्रक्रिया अंतिम दौर में है। अफसरों के हर साल निविदा शर्तें बनाने, निविदा आमंत्रण और तकनीकी फर्मों के निर्धारण में देरी का खामियाजा भुगतना पड़ता है। विवि अफसर अपनी पसंदीदा फर्मों को ही टेंडर देने के पक्षधर रहते हैं।

यही था रामपाल का खेल..
पिछले साल घूसकांड में फंसे रामपाल सिंह (निलंबित कुलपति) का खेल भी कॉलेज को सम्बद्धता, मनमाने ढंग से परीक्षा केंद्र बनाने और चहेती फर्म को कामकाज सौंपने के इर्द-गिर्द घूमा था। रामपाल ने बरेली की फर्म को नियमों को ताक में रखकर कामकाज सौंप दिया था।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned