नीट-जेईई के मुन्नाभाई: सरगना डॉ. खुर्शीद की गिरफ्तारी के बाद खुलेंगे राज!

आरोपियों को अदालत में किया पेश, कोर्ट ने भेजा जेल

By: manish Singh

Published: 22 Sep 2021, 03:50 AM IST

अजमेर. मेडिकल/इंजिनियरिंग कॉलेज में पैसा लेकर मुन्ना भाइयों का दाखिला करवाने वाले गिरोह के पांच आरोपियों की मंगलवार को रिमांड अवधि समाप्त हो गई। पुलिस ने पांचों को अदालत में पेश किया। जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। अब प्रकरण में सरगना डॉ. खुर्शीद की गिरफ्तारी के बाद ही पुलिस गिरफ्त में आए दलाल और उनके कनेक्शन सामने आ सकेंगे।

थानाप्रभारी अरविन्द सिंह चारण ने बताया कि मंगलवार को प्रकरण में पुलिस रिमांड पर चल रहे डॉ. राजन राजगुरू, दलाल महेन्द्र सैनी, मोहम्मद तंजील, अर्पित स्वामी, गजेन्द्र स्वामी को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने आरोपियों को न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए। चारण ने बताया कि आरोपियों से प्रदेश में उनके साथ व उनके लिए काम करने वाले कई लोगों के नाम सामने आए हैं। जो प्रदेश में बाड़मेर, सीकर, कोटा, जोधपुर, झुंझुनूं के अलावा दिल्ली व यूपी में छिपे हैं। प्रकरण में अब गिरोह का मास्टर माइंड यूपी बिजनौर के डॉ. खुर्शीद की गिरफ्तारी नए तथ्य व राज खोलेगी। पेशे से सरकारी चिकित्सक डॉ. खुर्शीद की गिरफ्तारी के बाद गिरोह के बाकी नेटवर्क और उनके साथ काम करने वाले अन्य लोगों की तलाश की जा सकेगी।

अब तक 13 गिरफ्तार

आईजी अजमेर रेंज एस. सेंगाथिर की स्पेशल टीम ने अब तक प्रकरण में मुख्य आरोपियों समेत ७ दलाल व छह मेडिकोज को नीट परीक्षा देने के बाद जयपुर से गिरफ्तार किया था। जिन विद्यार्थियों के स्थान पर प्रथम, द्वितीय व तृतीय वर्ष के मेडिकोज ने परीक्षा दी थी उनसे और उनके परिजन से भी पुलिस का पूछताछ किया जाना शेष है। पुलिस ने अब इस दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी है।

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned