RAS 2021: फॉर्म भरवाने से पहले बढ़ीं आरपीएससी की परेशानी

आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती-2021 ने आवेदन से पहले ही परेशानी बढ़ा दी है। इसमें राज्य सेवा के 363 और अधीनस्थ सेवा के 625 पद शामिल हैं।

By: raktim tiwari

Published: 30 Jul 2021, 10:02 AM IST

रक्तिम तिवारी/अजमेर.

राजस्थान लोक सेवा आयोग की आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती-2021 ने आवेदन से पहले ही परेशानी बढ़ा दी है। इसमें राज्य सेवा के 363 और अधीनस्थ सेवा के 625 पद शामिल हैं। पहले राजस्थान से बाहर के भूतपूर्व सैनिकों को आवेदन की अनुमति ने सिरदर्द बढ़ाया। अब दिव्यांगों के लिए 4 प्रतिशत आरक्षण की पालना नहीं होने से महज 31 पद रखने की परेशानी आई है। राजस्थान पुलिस सेवा के तहत ओबीसी कैटेगरी में एक भी पद नहीं हैं। हालांकि पदों का वर्गीकरण और निर्धारण कार्मिक विभाग ने किया है।

आरपीएस 77 पद- ओबीसी वर्ग में एक भी नहीं
आरएएस 2021 में राजस्थान पुलिस सेवा के 77 पद शामिल हैं। इनमें सामान्य श्रेणी के 31, सामान्य महिला केे 13, अनुसूचित जाति सामान्य-10, अनुसूचित जाति महिला-3, अनुसूचित जनजाति सामान्य-7, अनुसूचित जनजाति महिला-3, ईडब्ल्यूएस सामान्य-5, महिला-2, एमबीसी सामान्य-3, ओबीसी-शून्य, अराजपत्रित अधिकारी-5, भूतपूर्व सैनिक के 3 पद शामिल हैं। कार्मिक विभाग के वर्गीकरण में ओबीसी वर्ग में एक भी पद शामिल नहीं है।

आरपीएएस-पिछली भर्तियों में ओबीसी के पद
आरएएस 2012 (कुल पद 52): ओबीसी सामान्य-8, ओबीसी महिला-2,
आरएएस 2013 (कुल पद 46): ओबीसी सामान्य-7, ओबीसी महिला-2,
आरएएस 2016 (कुल पद 67): ओबीसी सामान्य-10, ओबीसी महिला-4,
आरएएस 2018 (कुल पद 36): ओबीसी सामान्य-5, ओबीसी महिला-1,

2021: दिव्यांगों के महज 31 पद
कार्मिक विभाग ने आरएएस 2021 के वर्गीकरण में दिव्यांगों के महज 31 पद शामिल किए हैं। जबकि नियमानुसार 4 प्रति आरक्षण से 39 पद होने चाहिए। संसद से पारित नि:शक्त व्यक्तियों के अधिकार अधिनियम-2016 की धारा-34 में सरकारी सेवाओं में नि:शक्त व्यक्तियों के लिए न्यूनतम 4 प्रतिशत पद आरक्षित रखने का प्रावधान है। आरक्षण कैडर क्षमता के आधार पर तय किया जाना है। केंद्र सरकार ने 2017 में कानून भी बनाया है।

पिछली आरएएस भर्तियों में दिव्यांगों के पद
कार्मिक विभाग के आरएएस 2018 के वर्गीकरण में दिव्यांगों के 31 पद थे। इनमें राज्य सेवा में 14 तथा अधीनस्थ सेवा में 17 पद थे। इसी तरह आरएएस 2016 के वर्गीकरण में राज्य सेवा में 8 और अधीनस्थ सेवा में 11 पद थे। जबकि आरएएस 2013 के वर्गीकरण में राज्य सेवा में 11और अधीनस्थ सेवा में 20 पद शामिल थे।

भूतपूर्व सैनिकों का विवाद...
आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती-2021 की अधिसूचना के बिंदू संख्या 8 (क-2) में कहा गया कि 12 जुलाई 2021 की कार्मिक विभाग की अधिसूचना अनुसार राजस्थान सिविल सेवा (भूतपूर्व सैनिकों का आमेलन) नियम-1988 के तहत अन्य राज्यों के पूर्व सैनिकों को भी देय होगा। यानि दूसरे राज्यों के पूर्व सैनिक भी फॉर्म भरकर भर्ती परीक्षा में बैठ सकेंगे। इस मामले ने तूल पकड़ लिया। मामला न्यायालय की दहलीज तक पहुंचता। ऐसे में आयोग प्रशासन ने आवेदन प्रक्रिया को ही रोक दिया। आयोग को 28 जुलाई से शुरू होने वाली ऑनलाइनआवेदन प्रक्रिया स्थगित करनी पड़ी।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned