RPSC: आसान नहीं है इंटरव्यू और एग्जाम कलैंडर बनाना

स्थगित परीक्षाएं और साक्षात्कार कार्यक्रम तय करना नहीं है आसान। आरपीएससी को कई बातों का रखना होगा ध्यान।

By: raktim tiwari

Published: 11 May 2021, 08:02 AM IST

अजमेर.

कोरोना संक्रमण के चलते आरएएस के बकाया साक्षात्कार और परीक्षाओं का कलैंडर बनाना राजस्थान लोक सेवा आयोग के लिए आसान नहीं है। अव्वल तो इसके लिए फु ल कमीशन की बैठक करानी होगी। तिस पर हालात सामान्य होने और यूपीएससी की भर्ती परीक्षा तिथियों का इंतजार भी करना होगा।

आयोग को उपनिरीक्षक-प्लाटून कमांडर भर्ती (859 पद), अधीक्षक उद्यान और सहायक परीक्षण अधिकारी (5 पद), विधि रचनाकार भर्ती (5 पद) और सहायक आचार्य (918 पद) भर्ती परीक्षा करानी है। खासतौर पर आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) को आयु सीमा में छूट और आवेदन शुल्क में लाभ भी दिया जाना है। इनके अलावा 2021 के कलैंडर में अब आयोग के पास भर्ती परीक्षा नहीं है।

कलैंडर बनाने में मुश्किलें
आयोग को विभिन्न भर्ती परीक्षा सहित आरएएस के द्वितीय चरण से स्थगित किए साक्षात्कार की तिथियां तय करनी हैं। परीक्षा तिथियां-कार्यक्रम फुल कमीशन की बैठक में तय किया जाएगा। उधर यूपीएससी ने आईएएस भर्ती-2020 के साक्षात्कार, संयुक्त चिकित्सा सेवा और अन्य परीक्षाएं स्थगित की हैं। इनके लिए यूपीएससी में जून अथवा जुलाई में उच्च स्तरीय बैठक होगी। राजस्थान लोक सेवा आयोग को भी यूपीएससी के कार्यक्रम, कोरोना संक्रमण की स्थिति और सुरक्षा इंतजाम का खास ध्यान रखना होगा।

सरकार के लिए भी चुनौती
सरकार के लिए भी राज्य में भर्तियां कराना चुनौती है। मुख्यमंत्री ने 2021-22 के बजट में 50 हजार भर्तियों की घोषणा की है। इनमें शिक्षा विभाग में सर्वाधिक 19000, गृह विभाग में 8000, पीएचईडी में 3838, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में 5 हजार भर्तियां शामिल हैं। इसके अलावा कृषि, वन, आयुर्वेद, राजस्व और अन्य महकमे भी शामिल है।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned