scriptSecurity increased if incidents increase, CCTV cameras installed | वारदातें बढ़ी तो सुरक्षा बढ़ाई, बस स्टैंड पर लगाए सीसीटीवी कैमरे | Patrika News

वारदातें बढ़ी तो सुरक्षा बढ़ाई, बस स्टैंड पर लगाए सीसीटीवी कैमरे

वीडियो विजिलेंस : निगरानी बढ़ेगी तो रुकेंगी वारदातें, सीसीटीवी लगाते ही संदिग्ध को दबोचा

अजमेर

Published: November 29, 2021 03:49:50 am

बीते कई दिनों से रोडवेज में सफर कर रहीं महिला यात्री चोर-उठाईगीर और लेुटेरों के निशाने पर हैं। ऐसा लगने लगा है कि कोई संगठित गिरोह महिला यात्रियों को चुन-चुनकर निशाना बना रहा है। आए दिन रोडवेज में सफर कर रही किसी ना किसी महिला यात्री का बैग-जेवर-सामान चोरी होने का सिलसिला जारी है। लगातार हो रही वारदातों के बाद अब रोडवेज प्रशासन ने बस यात्रियों की सुरक्षा की ओर कदम बढ़ाए हैं। जिसके तहत केंद्रीय बस स्टैंड परिसर को हर कोने से सीसीटीवी कैमरों की जद में लिया गया है।
वारदातें बढ़ी तो सुरक्षा बढ़ाई, बस स्टैंड पर लगाए सीसीटीवी कैमरे
वारदातें बढ़ी तो सुरक्षा बढ़ाई, बस स्टैंड पर लगाए सीसीटीवी कैमरे
मनीष कुमार सिंह. अजमेर.

बीते बीस दिन में आधा दर्जन से ज्यादा राहजनी की वारदातें होने के बाद शहर के व्यस्त व भीड़भाड़ वाली जगहों में शुमार केन्द्रीय बस स्टैण्ड की पुलिस व प्रशासन ने अब कहीं जाकर सुध ली है। चौंकाने वाला पहलू यह भी कि इनमें से अधिकांश वारदातें में बस में सफर कर रही महिला यात्रियों के साथ ही पेश आई। आने वाले दिनों में केन्द्रीय बस स्टैण्ड पर स्मार्टसिटी प्रोजेक्ट के तहत एक दर्जन से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे प्लेटफार्म और बस स्टैंड परिसर में लगाए जा रहे हैं। जिनमें से आठ इंस्टॉल किए जा चुके हैं, जबकि शेेष के लिए पॉइंट निर्धारित होने हैं। जिनसे सीधे अभय कमांड सेंटर से नजर रखी जा सकेगी।
कहां-कहां हैं सीसीटीवी
केन्द्रीय बस स्टैंड पर यूं तो पहले भी सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। लेकिन उनकी जद में प्रवेश और निकास द्वार ही थे। अब निगरानी का दायरा बढ़ाते हुए करीब 12 सीसीटीवी कैमरे प्लेटफार्म और पुलिस चौकी के इर्द-गिर्द लगाए हैं। ताकि बस स्टैंड परिसर की गतिविधि पर निगरानी रखी जा सके।
90 फीसदी हिस्सा था अछूता

अजमेर बस स्टैंड पर लगे सीसीटीवी कैमरे सिर्फ नागौर, पाली टिकट विंडो ही कवर कर रहे थे। ऐसे में बस स्टैंड का 90 फीसदी हिस्सा सीसीटीवी सर्विलान्स से अछूता था। इसमें भीलवाड़ा, कोटा व जयपुर मार्ग की विंडो पर लगातार वारदातें हो रही थी। उधर, खास बात यह रही कि सीसीटीवी कैमरे लगते ही अभय कमांड सेंटर ने संदिग्ध को दबोच सिविल लाइन पुलिस के हवाले किया।
अब तक 346 लगाए
स्मार्टसिटी प्रोजेक्ट में शहर में अब तक 346 सीसीटीवी कैमरे काम कर रहे हैं। शहर के अधिकांश हिस्से को कवर किया जा चुका है। हालांकि अभी इतने ही कैमरे शहर के अन्य हिस्से में लगाए जाने बाकी हैं।
बस स्टैंड पर दो दर्जन कैमरों से निगरानी

प्रवेश द्वार- 04
निकास द्वार- 03

पुलिस चौकी-04
प्लेटफार्म पर 08

लगने हैं-04

एसे हुई वारदात-दर-वारदात
6 नवम्बर- अजमेर-जयपुर के बीच रामगंज मीणा कॉलोनी निवासी कान्ता मीणा के बैग से 7 तोला सोने के जेवर पार
17 नवम्बर- जयपुर शास्त्रीनगर की खजीदा बेगम के पर्स से 50 हजार चोरी। गिरोह के 3 जनों को दबोचा।
22 नवम्बर- नागौर नृसिंग बासनी की ललिता रावल के बैग से 13 तोला सोना चोरी

23 नवम्बर- सीकर निवासी वर्षा मीणा का अजमेर बस स्टैंड पर सूटकेस उतार ले गया चोर
प्रत्येक व्यक्ति पर निगरानी
ओरियन प्रो सोल्यूशन कम्पनी के डिविजनल हैड हेमन्तकुमार बालोटिया का कहना है कि बस स्टैंड पहले से ही सुरक्षा घेरे में था, लेकिन अब प्लेटफार्म पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। ताकि प्रत्येक व्यक्ति गतिविधि पर नजर रखी जा सके।
लगातार हो रही थीं वारदातें

बस में सफर करने वाले यात्रियों के सामान चोरी की वारदातें बढ़ रही थी। बस स्टैंड पर लगे कैमरे कुछ क्षेत्र में कवर कर रहे थे। मामले में पुलिस प्रशासन को लिखा गया तो एक दर्जन सीसीटीवी कैमरे लगाए गए।
रोमेश यादव, ड्यूटी ऑफिसर, सीबीएस अजमेर
यात्री भी बरतें सावधानी
यात्रियों को सफर में कीमती सामान सावधानी पूर्व रखना चाहिए। सफर में संदिग्ध नजर आए तो तुरन्त 100 डायल व अभय कमांड सेंटर व संबंधित थाने, बस के परिचालक को सूचित करें। ताकि समय रहते हुए अपराधी तत्व पर पुलिस कार्रवाई की जा सके।
अरविन्दसिंह चारण, थानाप्रभारी, सिविल लाइन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.