पाइप लाइनों में रिसाव से हो रही बर्बादी

लॉकडाउन में पाइपलाइनों की करनी चाहिए जांच, दुरुस्त करने में होगी आसानी

By: himanshu dhawal

Published: 07 Apr 2020, 04:50 PM IST

अजमेर. शहर में जलदाय विभाग की पाइपलाइनों में कई स्थानों पर रिसाव से पानी की बर्बादी हो रही है। अगर ये रिसाव नहीं रोका गया तो आने वाली गर्मियों में लोागों की परेशानी बढ़ सकती है।

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन जारी है। पानी की नियमित आपूर्ति हो रही है। जलदाय विभाग की पाइप लाइनों से कई जगह पानी का रिसाव हो रहा है। इससे पानी तो बर्बाद हो रहा है। साथ ही पाइप लाइनों को भी क्षति हो रही है। ऐसे में उन पाइप लाइनों का समय रहते सुधार करना चाहिए। गर्मी के चलते मांग बढऩे पर परेशानी बढऩे से भी इनकार नहीं किया जा सकता है।
केस 1

संत फ्रासिंस हॉस्पिटल के सामने मार्टिंडल ब्रिज के नीचे से मुख्य पाइपलाइन गुजर रही है। इस लोहे की पाइप लाइन से पानी की तेज धार पिछले कई दिनों से निकल रही है। यह धार ब्रिज की भुजा से टकरा रही है। लीकेज बढऩे पर सप्लाई में परेशानी हो सकती है।

केस 2
अम्बेडकर सर्किल के निकट रोड के बीच में पानी का रिसाव हो रहा है। रिसाव धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। पानी बहते रहने के कारण और वाहनों की आवाजाही के चलते यह गड्ढा धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। इससे आवाजाही में भी परेशानी होने लगी है।

यह करना चाहिए

जलदाय विभाग के अधिकारियों को जिस क्षेत्र में सप्लाई दी जा रही है, वहां तक जाने वाली पाइपलाइन काा निरीक्षण कर यदि कहीं लीकेज है तो उसे दुरुस्त कराना चाहिए। वर्तमान में लॉकडाउन जारी है, इससे सडक़ की खुदाई आदि में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी।

himanshu dhawal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned