अवैध रेत परिवहन कर रहे ट्रक-डंपर पर कार्रवाई

खनिज निरीक्षक उतरीं सड़क पर क्षेत्र में लंबे समय से हो रहा था अवैध रेत परिवहन

आलीराजपुर. जिले में लंबे समय से रेत का अवैध परिवहन किया जा रहा है, लेकिन विभाग के जिम्मेदार अधिकारी अभी तक सोए हुए थे, जिसके चलते शासन को राजस्व का भारी नुकसान भी उठाना पड़ा। खनिज विभाग की लापरवाही का आलम तो यह था कि कलेक्टर कार्यालय के सामने से रोजाना सैंकड़ों की संख्या में ट्रक रेत का अवैध परिवहन करते हुए दूसरे जिलो में सप्लाई करते थे, लेकिन अब जाकर विभाग की एक अधिकारी को अपने दायित्व का बोध हुआ है और गुरुवार को सुबह से ही खनिज निरीक्षक द्वारा सड़क पर बैठकर कार्रवाई की गई। जिसके चलते कुछ ही पलो में खंडवा-बड़ोदा मार्ग पर चलने वाले अवैध रेत के ट्रकों व डंपरों के पहिये थम गए और देखते ही देखते पटेल पब्लिक स्कूल के आगे रेत के ट्रकों की लाइन लग गई।
2 ट्रकों पर ही हो पाई कार्रवाई
विभाग की निरीक्षक कामना गौतम ने बताया कि वे अपने निवास से कलेक्टर कार्यालय तक जा रही थी तभी उनकी नजर ओवरलोड रेत से भरकर जा रहे वाहनों पर पड़ी और उन्होंने उसे तत्काल पुलिस थाने पर पहुंचाया। साथ ही यह निश्चिय किया कि आज वे दिनभर बैठकर अवैध रेत परिवहन कर रहे वाहनों पर कार्रवाई करेंगी, लेकिन रेत परिवहन करने वाले ट्रकों की आपस की जुगलबंदी भी उस समय देखने को मिली जब कार्रवाई के लिए बैठने के बाद रास्ते में आ रहे वाहनों को खबर हो गई की खनिज निरीक्षक थाने पर बैठकर कार्रवाई कर रही हंै। इसके बाद देखते ही देखते रेत से भरे हुए ट्रकों के पहिये थम गए। खनिज निरीक्षक कामना गौतम ने बताया की वे सुबह 9 बजे से कार्रवाई के लिए बैठी है और अभी तक मात्र 2 ट्रक ही इस रास्ते पर आए हैं, जिसमें से 1 ट्रक के पास रॉयल्टी नहीं पाई गई, वहीं दूसरे ट्रक में ओवरलोड रेत पाई गई।
रेत से भरे ट्रकों की लगी लंबी लाइन
खंडवा-बड़ोदा मार्ग पर प्रतिदिन सैंकड़ों की संख्या में रेत का परिवहन होता है, जिसमें से सैंकड़ों ट्रक ओवरलोड एवं बिना रॉयल्टी के चलते हैं। यह तो विभाग की निष्क्रियता ही थी की इस तरह की कार्रवाई करने का साहस पहले कोई अधिकारी नहीं कर पाया और आज जब खनिज निरीक्षक कामना गौतम द्वारा थाने के बाहर बैठकर कार्रवाई की गई तो ट्रक मालिकों के खुफिया सूत्रों के चलते जिस हिसाब से कार्रवाई होना थी वह नहीं हो पाई। अब इस बात का भी संदेह है कि कही ना कहीं कोई सूत्र ऐसे विभाग में बैठे हैं जो की अपने ही विभाग की होने वाली कार्रवाई की जानकारी भी ट्रक मालिकों को देते हंै। गौतम द्वारा की गई कार्रवाई के दौरान लगभग 1 किमी दूर तक ट्रकों की लंबी लाइने लग गई थी।
वाहन छोड़कर भागे चालक-क्लीनर
खनिज निरीक्षक कामना गौतम ने बताया की उनकी जानकारी में है की थाने से लगभग आधा किमी दूर ही रेत से भरे हुए ट्रकों की लंबी कतारे लग गई हैं, जिसे वे स्वयं भी देखने के लिए गई थी। लेकिन हमारी समस्या यह है कि उक्त वाहन के चालक क्लीनर ट्रक छोड़कर मौके से फरार हो गए हैं। अब ऐसे में हम कार्रवाई करे तो किस पर करें।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned