पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दाम में वृद्धि के विरोध में आलीराजपुर भी बंद रहा

पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दाम में वृद्धि के विरोध में आलीराजपुर भी बंद रहा

Arjun Richhariya | Publish: Sep, 10 2018 10:20:51 PM (IST) Alirajpur, Madhya Pradesh, India

कांग्र्रेस ने बैलगाड़ी चलाकर जताया विरोध, कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर सौंपा आवेदन

आलीराजपुर. पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस में भारी वृद्धि को लेकर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार जिला कांग्रेस कमेटी ने सोमवार को जिला बंद का आव्हान किया था। इसी कड़ी में नगर भी बंद किया गया।

बंद को लेकर सुबह से ही कांग्रेस के कार्यकर्ता बाइक के रूप में प्रमुख मार्गों पर घूमते हुए दुकानदारों से बंद को सफल बनाने की अपील करते दिखे। प्रात: 9 बजे से 3 बजे तक भारत बंद के चलते नगर में स्थित सभी दुकाने, होटल एवं अन्य दुकाने बंद रही। हालांकि ग्रामीण अंचल से सब्जी बेचने आए ग्रामीणजनों ने अपनी सब्जी दिनभर बेची। वहीं नगर की सभी होटले बंद होने के चलते लोगों को चाय-नाश्ता करने के लिए तरसना पड़ा। दोपहर 3 बजे बाद बाजार खुलने ही होटलों ओर ढाबों पर लोगों की भीड़ उमड़ी। उल्लेखनीय है सोमवार के दिन आलीराजपुर का साप्ताहिक हाट बाजार रहता है, लेकिन कांग्रेस द्वारा बुलाए गए बंद के चलते लोगों ने अपनी दुकाने बंद रखी।

बैलगाड़ी के साथ निकाली रैली
दोपहर करीब १ बजे के बाद कांग्रेस कमेटी के द्वारा एक रैली निकाली गई, जिसमें जिला कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष महेश पटेल और नपा अध्यक्ष सेना पटेल एक बैलगाड़ी पर सवार होकर चल रहे थे। वहीं रैली में जिला कांग्रेस अध्यक्ष सरदार पटेल, युवक कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष मुकेश पटेल, युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष शंकर बामनिया,राधेश्याम माहेश्वरी, बापू पटेल, राहुल परिहार सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस के नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे। इस दौरान केंद्र सरकार के विरोध में जमकर नारे भी लगाए गए। रैली का समापन कलेक्टर कार्यालय पर किया गया। जहां पर राज्यपाल के नाम अपर कलेक्टर सुरेशचंद्र वर्मा को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन का वाचन साहनी मकरानी ने किया और आभार ओम सेठ राठोड ने माना।

चप्पे-चप्पे पर था पुलिस बल तैनात
बंद के चलते सुबह से ही कांग्रेस कार्यकर्ता बाजार में घूमते दिखे। इस दौरान कुछ दुकाने खुली हुई थीं, जिन्हें बंद करवाया गया। देशव्यापी बंद के चलते पुलिस प्रशासन भी मुस्तैद दिखाई दिया। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात दिखाई दिया। दोपहर को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली, जो प्रमुख मार्गों से होते हुए कलेक्टर कार्यालय पहुंची। इस दौरान बस स्टैंड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध में नारेबाजी की गई।
आमजनों का जीना दूर्भर कर दिया
रैली को संबोधित करते हुए जिला कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष महेश पटेल ने कहा कि केन्द्र सरकार ने पेट्रोल, डीजल एवं रसोई गैस में भारी वृद्धि कर आमजनों का जीना दुर्भर कर दिया है, वहीं दूसरी ओर राज्य सरकार द्वारा वेट टैक्स के नाम पर भारी टैक्स वसूली किए जाने से आमजनों, मध्यम वर्ग, किसान, ट्रांसपोट्र्स, छोटे एवं मध्यम व्यापारी को मंहगाई के बोझ से दबे जा रहे हैं। जिला कांग्रेस अध्यक्ष सरदार पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यदि शासन स्तर पर पेट्रोल, डीजल ओर रसोई गैस की किमतों मेंं नियंत्रण नहीं कर सकते हैं, तो उन्हें पद पर रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्हें शीघ्र ही पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। नपा अध्यक्ष सेना पटेल ने कहा, भाजपा के १५ साल के राज में जनता मंहगाई से त्रस्त हो गई है। कांग्रेस द्वारा महंगाई के विरोध में नगर बंद का आव्हान किया गया था। नगर के सभी व्यापारी व दुकानदारों ने जो सहयोग दिया उसकी कांग्रेस पार्टी आभारी है।

क्या है आवेदन में
आवेदन में बताया गया कि दैनिक जरूरतों की वस्तुओं के बढ़ते मूल्योंं ने सभी नागरिकों का बजट बुरी तरह बिगाड़ दिया है। घरेलू गैस की कीमत 827 रुपए प्रति सिलेंडर हो गई है। ऑइल के दाम इन दिनों लगातार कम होने के बावजूद भी इसी तरह कि मूल्य वृद्धि करना आम जनता के साथ अन्याय है। यूपीए सरकार के समय पेट्रोल 70 रुपए प्रति लिटर था, जो आज 86 रुपए प्रति लिटर हो गया है। डीजल 55 रुपए प्रति लिटर था, जो 75 रुपए लीटर हो गया है। इसलिए पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत जीएसटी में शामिल की जाए।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned