पहले आपस में भिड़े भाजपा पार्षद, बाद में सुर में सुर मिलाते दिखे

करीब एक घंटा देर से शुरू हुआ नगर पालिका का साधारण सम्मेलन, छुटपुट बहस के साथ 29 प्रस्तावों पर हुई चर्चा

आलीराजपुर. नपा का साधारण सम्मेलन शनिवार को नपा कार्यालय में हुआ। इसमें सर्वसम्मति से कई प्रस्तावों को स्वीकृति दी गई। बैठक का समय सुबह 11.30 बजे निर्धारित किया था, लेकिन कुछ पार्षद ही समय पर पहुंचे। इस वजह से नपा अध्यक्ष सेना पटेल ने बैठक को स्थगित करने का मन बनाया। इसी दौरान नपा उपाध्यक्ष मकू परवाल सहित अन्य पार्षद करीब १२.३० बजे पहुंचे। इसके बाद बैठक शुरू हुई। बैठक के दौरान भाजपा के २ पार्षद आपस में भिड़ गए, जबकि परिषद में भाजपा का ही बहुमत है। हालांकि बाद में दोनों पार्षद सुर में सुर मिलाते दिखाई दिए। सम्मेलन में कुल 29 प्रस्तावों पर चर्चा की गई। सर्वानुमति से कुछ प्रस्तावों को छोडक़र सभी प्रस्ताव स्वीकृत कर दिए गए। बैठक समापन के दौरान नपा अध्यक्ष सेना पटेल किसी बात को लेकर नाराज होकर उठकर चले गई।

सडक़, नाली निर्माण को प्राथमिकता से बनाएं
बैठक में एजेंडे के अनुक्रमांक 11 पर अधोसंरचना मद से प्राप्त १ करोड़ रुपए से नगर की मुख्य सडक़ों पर रोड डिवाइडर एवं स्ट्रीट लाइट निर्माण के प्रस्ताव पर जब चर्चा हुई तो इस पर नपा उपाध्यक्ष मकू परवाल ने कहा, नगर में सबसे पहले प्राथमिकता के आधार पर सडक़ और नाली निर्माण के टेंडर निकाले जाएं। ये काम सबसे पहले प्राथमिकता से करवाए जाएं। नपा उपाध्यक्ष परवाल ने कहा, नपा के पास अधोसंरचना मद में 1 करोड़ विशेष निधि में 1.50 करोड़ व मूलभूत सुविधा में 50 लाख रुपए इस प्रकार कुल 3 करोड़ की राशि नपा के पास है। इसमें नगर के सभी वार्डों में प्राथमिकता के कार्य करवाए जाएं।

डामरीकरण का प्रस्ताव शासन को भेज रहे हैं
नपा अध्यक्ष पटेल ने कहा, नगर में सभी महत्वपूर्ण मार्गों पर डामरीकरण करने के लिए डीपीआर बनाकर शासन को प्रस्ताव भेज रहे हैं। इसकी स्वीकृति मिलने के बाद टेंडर निकालकर अतिशीघ्र डामरीकरण का काम करवाया जाएगा। बैठक में पुराना नपा कार्यालय भवन को तोडक़र वहां पर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स बनाने एवं पहली मंजिल पर नपा का कार्यालय बनाने की स्वीकृति भी दी गई। बैठक में पुराने कलेक्टर भवन को नगर पालिका स्वामित्व हेतु शासन को प्रस्ताव भेजे जाने पर निर्णय लेकर स्वीकृति दी गई। इस प्रस्ताव पर नपा उपाध्यक्ष परवाल ने कहा कि इसकी स्वीकृति के बाद विधायक मुकेश पटेल को भी पत्र लिखकर उनके अनुशंसा के साथ शासन को भेजा जाना चाहिए।
सब्जी मंंडी की नपती हुई तो क्यों नहीं हुआ काम
पार्षद ओच्छबलाल सोमानी ने बैठक में कहा, नगर में ग्रामीणजन सब्जी बेचने के लिए मुख्य मार्गों पर बैठ जाते हैं, जिससे कई तरह की समस्या आमजन व सब्जी बेचने वाले ग्रामीणों को आती है। मेरे द्वारा खड़े रहकर सब्जी मंडी की नपती करवाकर वहां पर शेड लगाने के लिए योजना बनाई गई थी। सोमानी ने बताया, अगर सब्जी मंडी में शेड बन जाता है तो कुल 90 सब्जी विक्रेता वहां पर बैठ सकते हैं, जिससे कई प्रकार की समस्याएं हल हो सकती हैं। बैठक में नपा सीएमओ संतोष चौहान ने अपना परिचय देते हुए बैठक की शुरुआत की। बैठक में पार्षद रितेश डावर, निखिलेश गोस्वामी, सुनीता मेहता, आनंद सोलंकी, माधु सुरभान, कांतिलाल राठौड़, आशिया चंदेरी, सुनीता बामनीया, महेश भिंडे उपस्थित थे।
वार्ड 11 को छोड़ा तो छिड़ी बहस
बैठक में जब नगर के सभी 18 वार्डों में सडक़ डामरीकरण और नाली निर्माण की चर्चा चल रही थी तो सभी वार्डों में सडक़ निर्माण की सूची नपा उपाध्यक्ष परवाल ने पढक़र सुनाई कि किस वार्ड में कितने मीटर का रोड डामरीकृत करना प्रस्तावित है। इसमें वार्ड 11 का उल्लेख नहीं होने पर बैठक में विधायक के प्रतिनिधि के रूप में उपस्थित जिला कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष ओमप्रकाश राठौर ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, वार्ड क्रमांक 11 क्यों छोड़ दिया गया है। इस पर नपा अध्यक्ष सेना पटेल ने कहा, नगर के सभी वार्डों को लिया जा रहा है, आप चिंता न करें।

राजेश मिश्रा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned