12460 सहायक अध्यापकों की काउंसिलिंग 23 अप्रैल को होगी

Akhilesh Tripathi

Publish: Apr, 17 2018 06:54:58 PM (IST)

Allahabad, Uttar Pradesh, India
12460 सहायक अध्यापकों की काउंसिलिंग 23 अप्रैल को होगी

अभ्यर्थी को अपने शैक्षिक मूल अभिलेखों के साथ जिला बेसिक शिक्षाधिकारी कार्यालय पर उपस्थित होने का निर्देश दिया गया है ।

इलाहाबाद. प्रदेश के जनपदों में 12460 सहायक अध्यापकों की नियुक्ति के लिये प्रथम कांउसिलिंग में उपस्थित होने वाले अभ्यर्थी 23 अप्रैल को अपने शैक्षिक मूल अभिलेखों के साथ जिला बेसिक शिक्षाधिकारी कार्यालय पर उपस्थित होने का निर्देश दिया गया है। सचिव, बेसिक शिक्षा परिषद् उत्तर प्रदेश ने कहा है कि इस प्रक्रिया के अंतर्गत 18 से 20 मार्च 2017 के मध्य जनपद के लिये आवेदन करने वाले बीटीसी, विशिष्ट बीटीसी, उर्दू बीटीसी या डी.एड, बीएलएड प्रशिक्षण उत्तीर्ण अभ्यर्थियों के लिए प्रथम काउंसिलिंग का आयोजन कराया जा चुका है।


लेकिन शासन द्वारा उस प्रक्रिया को स्थगित कर दिया गया था। अब शासनादेश के तहत प्रथम काउंसिलिंग में उपस्थित होने वाले सभी अभ्यर्थियों हेतु जनपद स्तर से 19 अप्रैल को प्रकाशन कराया जायेगा और 23 अप्रैल को प्रथम कांउसिलिंग में उपस्थित होने वाले अभ्यर्थियों को अपने शैक्षिक मूल अभिलेखों के साथ जिला बेसिक शिक्षाधिकारी कार्यालय पर उपस्थित होने के लिए निर्देशित करेंगे। उन्होंने कहा है कि सभी जिला बेसिक शिक्षाधिकारी सुनिश्चित कर लें कि संबंधित अभ्यर्थियों को 23 अप्रैल को आने के लिये सूचित करें।

 

उन्होंने बताया कि मेरठ, बागपत, बुलन्दशहर, गाजियाबाद, हापुड़, गौतमबुद्वनगर, आगरा , बरेली, शाहजहांपुर, इलाहाबाद, गाजीपुर, लखनऊ, खीरी, गोरखपुर, संतकबीरनगर, मुरादाबाद, झांसी, मुजफ्फरनगर, सम्भल, कानपुर, इटावा, आजमगढ़, मऊ, सहारनपुर को छोड़कर सभी जिलों के प्रथम काउंसिलिंग में प्रतिभाग करने वाले तथा 23 अप्रैल को उपस्थित होने वाले अभ्यर्थियों को जनपद में निर्धारित पदों के प्रति आरक्षणवार एवं श्रेणीवार अनन्तिम चयन सूची तैयार करें। चयन सूची में सम्मिलित अभ्यर्थियों को प्रदेश के सभी जनपदों में एक मई को नियुक्ति पत्र निर्गत किया जायेगा। उन्होंने कहा कि नियुक्ति पत्र निर्गत होने के उपरान्त जनपद में 12460 सहायक अध्यापकों के संबंध में सूचना परिषद कार्यालय को चार मई तक परिषद के ईमेल पर उपलब्ध करायें।

 

 

 

जीआईसी के ऑनलाइन फार्म भरने की अवधि बढ़ाने की मांग

इलाहाबाद उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग पर प्रतियोगी छात्रों ने जीआईसी की लिखित परीक्षा फार्म भरने की तिथि बढ़ाने की मांग को लेकर एवं सभी विषयों के प्रतियोगियों को फार्म भरने की स्वीकृति के लिए सचिव से मिले, लेकिन उन्हें कोई आश्वासन नहीं मिला। युवा मंच के अध्यक्ष अनिल सिंह का कहना है कि न्यायालय द्वारा उम्र की बाध्यता व इण्टरमीडिएट में संस्कृत विषय की बाध्यता समाप्त कर स्नातक स्तर की योग्यता पर 16 अप्रैल तक ऑफलाइन फार्म भरने की स्वीकृति दी है।

उन्होंने कहा कि 13 अप्रैल को न्यायालय के आदेश के बाद शनिवार व रविवार की छुट्टी होने के कारण एक दिन का समय मिलने से प्रतियोगियों में बैंक ड्राफ्ट बनवाने की समस्या के चलते ऑनलाइन फार्म भरने की स्वीकृति दी जाय और उम्र की बाध्यता 40 वर्ष समाप्त होने से केवल याची को लाभ देने की बात कही गई, जो न्यायोचित नही है। यदि सभी विषयों के प्रतियोगियों को फार्म भरने की स्वीकृति नहीं दी गई तो प्रतियोगी छात्र आन्दोलन के लिए बाध्य होंगे।

उन्होंने बताया कि परीक्षा तिथि को लेकर बात रखी तो छह मई को परीक्षा न होने की पुष्टि की गई तथा जल्द ही परीक्षा कार्यक्रम घोषित करने के लिए कहा गया। युवा मंच अध्यक्ष ने कहा यदि जल्द ही सभी प्रतियोगी भाई बहनों को फार्म भरने का मौका नहीं दिया गया तो आयोग पर प्रतियोगी छात्रों द्वारा अनिश्चितकालीन घेराव किया जाएगा। इस दौरान युवा मंच के उदय सिंह लोधी, उमा शंकर सिंह, बाल कृष्ण , नीलम, गीता सिंह, अशोक महादेव, सुरेन्द्र कुमार पाण्डेय तथा बीएड उत्थान जन मोर्चा एवं युवा अधिकार मंच की प्रदेश अध्यक्ष संगीता पाल, संयोजक चन्द्रेश यादव, अरविंद मौर्या, रवीन्द्र पाण्डेय, राहुल कुमार सिंह, सुनील यादव, संदीप कुमार शुक्ला, कंचन सिंह सहित सैकड़ों प्रतियोगी छात्र उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned