बाहुबली अतीक अहमद की एक और इमारत गिराई गई, अतीक के साढ़ू की बिल्डिंग भी ढहाई जा चुकी है

बाहुबली मुख्तार अंसारी के बाद अब पुलिस प्रशासन ने बाहुबली अतीक अहमद की इलाहाबाद के पॉश इलाके में स्थित एक बिल्डिंग को नेस्त नाबूद कर दिया है। इसके पहले इलाहाबाद में अतीक के साढ़ू की एक इमारत काे भी जमींदाेज किया जा चुका है।

प्रयागराज. बाहुबली मुख्तार अंसारी के बाद पुलिस ने अब पूर्व सांसद बाहुबली अतीक अहमद के आर्थित सम्राज्य को ध्वस्त करना शुरू कर दिया है। अतीक की सम्पत्ति कुर्क करने के बाद अब प्रशासन और पुलिस की टीम ने अतीक और उनके रिश्तेदार की अवैध बिल्डिंग को भी जमींदोज कर दिया। भारी पुलिस बल और अधिकारियों की मौजूदगी में दोनों अवैध बिल्डिंगों को खाली कराकर जेसीबी की मदद से उसे ढहा दिया गया। आरोप है कि बिल्डिंग नजूल की जमीन पर गैर कानूनी तौर पर कब्जा कर बनाई गई थी और इसका नक्शा भी नहीं पास कराया गया था।

 

प्रशासन द्वारा अतीक अहमद की करीब 60 करोड़ की सम्पत्ति कुर्क करने के बाद अवैध रूप से बनी उनकी इमारतों और दूसरी प्राॅपर्टीज को पूरी तरह से नेस्त नाबूत करने की कार्रवाई शुरू हो चुकी है। प्रयागराज डेवेलपमेंट अथाॅरिटी के चार अधिकारी भारी संख्या में पुलिस बल लेकर नवाब यूसुफ रोड स्थित 500 वर्ग गज में अवैध रूप से बनी अतीक की बिल्डिंग गिराने पहुंची। मौके पर पीडीए के जोनल ऑफिसर, एसडीएम और कई थानों की पुलिस फोर्स मौजूद रही। कार्रवाई के पहले इमारत को पूरी तरह से खाली कराया गया और उसके बाद चार जेसीबी मशीनों की मदद से पूरी बिल्डिंग गिरा दी गई। इसके पहले अतीक के साढ़ू इमरान की बिल्डिंग को प्रशासन ने गिरवा दिया। अब तक अतीक अहमद की सात सम्पत्तियों को कुर्क किया जा चुका है। जिनकी कीमत 60 करोड़ रुपये बतायी जा रही है। इसके अलावा उनकी 13 और सम्पत्तियां भी कार्रवाई की जद में आने वाली हैं।

 

फिलहाल अतीक अजहमद गुजरात के अहमदाबाद जेल में बंद हैं और उनका भाई अशरफ भी पुलिस की गिरफ्त में है। अब पुलिस उनके आर्थिक साम्ज्य को खत्म करने में जुटी है। एक तरफ पुलिस अतीक अहमद, उनके करीबी और उनके गैंग से जुड़े लोगों को जेल में डाल रही है और उन लोगों के असलहे जब्त किये जा रहे हैं, तो दूसरी ओर अतीक और उनके रिश्तेदारों की अवैध सम्पत्तियों पर प्रशासन की ओर से लगातार कार्रवाई की जा रही है। बताते चलें कि इसके पहले पुलिस ने बाहुबली मुख्तार अंसारी परिवार और उनके करीबियों व गैंग पर कार्रवाई करते हुए मुख्तार के बेटों की बिल्डिंगें ढहा दीं तो पत्नी व साले की सम्पत्तियों को भी ढहाकर प्रशासन ने जमीन को कब्जे से खाली करा लिया।

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned