scriptFormer MLC Haji Iqbal did not get relief from Allahabad High Court | पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल को इलाहाबाद हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत, अग्रिम जमानत अर्जी खारिज | Patrika News

पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल को इलाहाबाद हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत, अग्रिम जमानत अर्जी खारिज

सुनवाई करते हुए इलाहााबद हाईकोर्ट ने कहा कि यदि याचीगण डिस्चार्ज अर्जी अधीनस्थ अदालत में दाखिल करते हैं तो न्यायालय उसे तय करें। तय होने तक या दो माह तक इनके खिलाफ उत्पीडऩात्मक कार्यवाही न की जाए। मामले में यह आदेश न्यायमूर्ति विवेक कुमार सिंह ने हाजी इकबाल व इनके परिवार के लोगों की अर्जी पर दिया है।

इलाहाबाद

Updated: May 17, 2022 02:15:50 pm

प्रयागराज: इलाहाबाद हाईकोर्ट से बसपा के पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल और उनके परिवार के सदस्यों को इलाहाबाद हाईकोर्ट से राहत नहीं मिली है। कोर्ट ने अग्रिम जमानत अर्जी को खारिज कर दिया है। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने हाजी इकबाल उर्फ बल्ला, मो. अफजल, आलिशान जावेद, अब्दुल वाहिद, को अग्रिम जमानत पर रिहा करने का आदेश देने से इंकार कर दिया है। इनके खिलाफ सहारनपुर के मीरजापुर थाने में गिरोह बंद कानून के तहत एफआइआर दर्ज है।
पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल को इलाहाबाद हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत, अग्रिम जमानत अर्जी खारिज
पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल को इलाहाबाद हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत, अग्रिम जमानत अर्जी खारिज
कोर्ट ने दिया आदेश

मामले में सुनवाई करते हुए इलाहााबद हाईकोर्ट ने कहा कि यदि याचीगण डिस्चार्ज अर्जी अधीनस्थ अदालत में दाखिल करते हैं तो न्यायालय उसे तय करें। तय होने तक या दो माह तक इनके खिलाफ उत्पीडऩात्मक कार्यवाही न की जाए। मामले में यह आदेश न्यायमूर्ति विवेक कुमार सिंह ने हाजी इकबाल व इनके परिवार के लोगों की अर्जी पर दिया है।
यह भी पढ़ें

महंत आनंद गिरि की अर्जी पर हाईकोर्ट ने की सुनवाई, शिकायतकर्ता को जवाब दाखिल करने का मिला समय, 26 मई तक तिथि निर्धारित

अग्रिम जमानत पर रिहा होना कोई आधार नहीं है

कोर्ट को जानकारी देते हुए याचियों का कहना था कि जिन आपराधिक केसों के आधार पर गिरोह बंद कानून के तहत एफआईआर दर्ज कराई गई है। इसके साथ ही इन सभी में उन्हें जमानत मिल चुकी है। मामले में दलील पेश करते हुए सरकारी वकील ने कहा इनका आपराधिक इतिहास में है और गंभीर अपराधी है। लुकआउट नोटिस जारी की गई है। इससे पहले इन लोगों ने याचिका दायर की थी। राहत न मिलने पर यह अर्जी दी है। इस पर कोर्ट ने कहा याची को अग्रिम जमानत पर रिहा करने का कोई आधार नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Mumbai News Live Updates: कल देवेंद्र फडणवीस सीएम और एकनाथ शिंदे डिप्टी सीएम पद की लेंगे शपथMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में नई सरकार को लेकर हलचल तेज, मंत्रालयों के बंटवारे को लेकर एकनाथ शिंदे ने दिया ये बड़ा बयानप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनउदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोलाUdaipur Murder: उदयपुर में हिंदू संगठनों का जोरदार प्रदर्शन, हत्यारों को फांसी दो के लगे नारेजम्मू-कश्मीर: बालटाल से अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना, पवित्र गुफा में बाबा बर्फानी का करेंगे दर्शनपटना के हथुआ मार्केट में लगी भीषण आग, कई दुकानें जलकर खाक, करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.