scriptweather update continuous heavy rain and hailstorm alert next 4 days Agra Aligarh Mathura clouds will thunder with lightning in UP imd predict | मौसम विभाग का ताजा अपडेट, चार दिन लगातार बारिश से नया रूप लेगी ठंडी, ओले-बिजली मचाएंगे तबाही | Patrika News

मौसम विभाग का ताजा अपडेट, चार दिन लगातार बारिश से नया रूप लेगी ठंडी, ओले-बिजली मचाएंगे तबाही

locationप्रयागराजPublished: Feb 03, 2024 06:03:00 am

Submitted by:

Vishnu Bajpai

Weather Update: यूपी समेत देश भर में मौसम का उतार-चढ़ाव जारी है। आईएमडी ने अब तीन दिन लगातार बारिश, ओले गिरने और मेघगर्जन के साथ आसमानी बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया है।

weather_update_news.jpg
Weather Latest Update
Latest Weather Update: मौसम में लगातार हो रहे बदलाव के बीच आईएमडी यानी भारत मौसम विज्ञान विभाग ने एक बार फिर लगातार बारिश, ओले गिरने के साथ मेघगर्जन और आसमानी बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग का कहना है कि इस दौरान पुराने और जर्जर मकानों को ज्यादा खतरा है। लगातार बारिश होने से सर्दी एक बार फिर से कहर ढा सकती है। मौसम वैज्ञानिकों ने लोगों से सतर्क रहने की अपील की है। आंचलिक विज्ञान नगरी लखनऊ की ओर से जारी ताजा अलर्ट में आगरा, अलीगढ़, औरैया, एटा, फर्रुखाबाद, हाथरस, जालौन, मैनपुरी, मथुरा और इसके आसपास के क्षेत्र में बादल गरजने और आसमानी बिजली गिरने की अधिक संभावना जताई गई है। जबकि आगरा, अमरोहा, औरैया, बागपत, बिजनौर, इटावा, फिरोजाबाद, हाथरस, जालौन, मथुरा, मेरठ, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, शामली में ओले गिरने की संभावना बताई गई है।
आंचलिक विज्ञान नगरी लखनऊ के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक डॉ. अतुल कुमार सिंह ने बताया कि मौजूदा समय में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से मध्य क्षोभमंडलीय पछुवा हवाओं की निम्न क्षोभमंडलीय पुरवा हवाओं के साथ संभावित प्रतिक्रिया के चलते 31 जनवरी से 1 फरवरी के दौरान राजधानी लखनऊ समेत प्रदेश के कई हिस्सों में थंडरस्टॉर्म और तेज़ झोंकेदार हवाओं के साथ हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई है। इस दौरान हवाओं की रफ्तार भी 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे रही। इस दौरान प्रदेश के उत्तरी तराई भाग में 1 फरवरी को कहीं-कहीं ओलावृष्टि भी हुई है।
weather_update_3.jpg

3 से 6 फरवरी के बीच लगातार बारिश और ओले गिरने का पूर्वानुमान


मौसम वैज्ञानिक के अनुसार 2 फरवरी को इस पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव समाप्त हो गया। इसके चलते अगले 48 घंटों के दौरान सतही स्तर पर हवाओं का रुख दोबारा पछुवा हो गया। साथ ही रात्रिकालीन शीतलहर बढ़ने से न्यूनतम तापमान में 2 से 4 डिग्री सेल्सियस की अस्थायी गिरावट दर्ज की गई। उन्होंने बताया कि अगले पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से अब 3 से 6 फरवरी के दौरान प्रदेश में फिर कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की सम्भावना है। इससे एक बार फिर शीतलहर चलने का प्रबल अनुमान है।

ट्रेंडिंग वीडियो