राजस्थान के इस शहर में 97 दिन बाद कोरोना ने लगाया अर्धशतक, देर रात कलक्टर पहुंचे राज्य बॉर्डर पर

अलवर जिले के कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। जिला कलक्टर ने देर रात राजस्थान-हरियाणा बॉर्डर का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

By: Lubhavan

Published: 04 Apr 2021, 05:49 PM IST

अलवर. कोरोना वायरस के संक्रमण ने अलवर में फिर तेज रफ्तार पकड़ ली है। 97 दिन बाद कोरोना ने फिर अर्धशतक लगाया है। शनिवार को जिले में 50 नए कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए। अप्रेल माह में तीन दिन में 133 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। इससे जिला प्रशासन और चिकित्सा विभाग की चिंता बढ़ गई है।
अलवर जिले में 27 दिसम्बर को कोरोना के 83 संक्रमित मरीज मिले थे। इसके बाद कोरोना के संक्रमण के ग्राफ में गिरावट शुरू हो गई। जनवरी और फरवरी माह में संक्रमण की तरफ लगातार घटती गई। मार्च में फिर कोरोना के संक्रमण ने रफ्तार पकड़ी। लेकिन जनवरी, फरवरी और मार्च माह में एक भी दिन 50 से ज्यादा मरीज सामने नहीं आए। अप्रेल माह के शुरुआत से कोरोना के संक्रमण से तेज रफ्तार पकड़ ली है। एक अप्रेल को 46 तथा दो अप्रेल को 37 कोरोना संक्रमित मरीज मिले। वहीं, 3 अप्रेल को कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 50 पर पहुंच गया। जिले में 97 दिन बाद कोरोना के 50 से ज्यादा केस सामने आए हैं।

कोरोना का लगातार हो रहा विस्फोट

अलवर जिले में अप्रेल माह शुरू होते ही लगातार कोरोना का विस्फोट जारी है। उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. छबील कुमार ने बताया कि शनिवार को जिले में 50 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। जिनमें अलवर शहर में 24 मरीज सामने आए हैं। इसके अलावा भिवाड़ी में 6, तिजारा में 5, किशनगढ़बास में 3, कोटकासिम, लक्ष्मणगढ़ व मालाखेड़ा में 2-2 तथा बहरोड़, राजगढ़, खेरली व रैणी में एक-एक संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं, अन्य शहर के दो मरीज मिले हैं।

उल्लेखनीय है कि जिले में अब तक कुल 22 हजार 243 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। इनमें से 91 मरीजों की कोरोना से मौत हो चुकी है। इनमें से 21 हजार 872 मरीज सही हो चुके हैं। फिलहाल 292 एक्टिव केस हैं। वहीं, चार मरीज सामान्य अस्पताल के कोरोना आईसीयू में भर्ती हैं।

एक्टिव केसों का आंकड़ा 300 के नजदीक

उल्लेखनीय है कि अलवर जिले में कोरोना एक्टिव केसों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। 25 फरवरी को अलवर जिले में मात्र 5 कोरोना एक्टिव केस थे। 37 दिन बाद शनिवार को एक्टिव मरीजों की संख्या 292 पर पहुंच गई।
चिकित्सा विभाग विशेष इंतजामों की तैयारी में

जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण कम होने राजीव गांधी सामान्य अस्पताल और लॉड्र्स कोविड अस्पताल में मरीज भर्ती नहीं हो रहे थे। जिसके कारण इन दोनों अस्पतालों में चिकित्सा विभाग की ओर से इंतजाम कम कर दिए गए थे, लेकिन अब कोरोना का संक्रमण फिर तेजी से बढऩे पर चिकित्सा विभाग ने दोनों अस्पताल में फिर से विशेष चिकित्सा इंतजामों की तैयारी शुरू कर दी है।

जिला कलक्टर ने किया बॉर्डर का औचक निरीक्षण

अलवर जिला कलक्टर नन्नू मल पहाड़िया ने कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए किए गए जा रहे प्रयासों का शनिवार देर रात नौगांवा हरियाणा बॉर्डर पहुंचकर औचक निरीक्षण किया। इस दौरान जिला कलक्टर ने सीमा पार से आ रहे वाहनों की चेकिंग की प्रक्रिया देखी। साथ ही यह भी जांच की कि अन्य राज्यों से अलवर में प्रवेश कर रहे लोगों की 72 घंटे पूर्व की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट जांची जा रही है या नहीं। इस दौरान कई लोगों ने बिना कोरोना जांच रिपोर्ट के निकलने का प्रयास कर रहे थे, जिन्हें वापस लौटाया गया। वहीं, जिला कलक्टर ने चेकपोस्ट पर रखे रजिस्टर में वाहनों की एंट्री का रिकॉर्ड भी जांचा। इस दौरान उनके साथ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ओपी मीणा सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

coronavirus
Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned