ये कैसा बहिष्कार, गंभीर मरीजों को भी टैंट में देख रहे चिकित्सक

ये कैसा बहिष्कार, गंभीर मरीजों को भी टैंट में देख रहे चिकित्सक

Rajeev Goyal | Updated: 05 Dec 2017, 10:52:58 AM (IST) Alwar, Rajasthan, India


चिकित्सकों ने बहिष्कार के दौरान गंभीर मरीजों को भी टैंट में चैक किया। इससे कई मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

जिले के सरकारी अस्पतालों में चिकित्सकों का सोमवार को भी आउटडोर का बहिष्कार जारी रहा। चिकित्सकों ने अस्पताल के बाहर टेंट में बैठकर मरीजों का इलाज किया।


राजीव गांधी सामान्य चिकित्सालय में इस दिन सुबह से ही टेण्टों में मरीजों की लम्बी कतार लगी। शुरुआत के एक-दो घंटे तो मरीजोंं को चिकित्सकों का इंतजार करना पड़ा। इस दौरान कुछ चिकित्सक कुर्सियों से गायब रहे। हालांकि बाद में वे मौके पर पहुंचे और मरीजों की जांच की। अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ व सरकार के बीच हुए समझौते की क्रियान्वित नहीं होने एवं सरकार की ओर से संघ के पदाधिकारियों के तबादले किए जाने के विरोध में डॉक्टरों ने आेपीडी में नहीं बैठने का फैसला किया है। जिला मुख्यालय पर राजीव गांधी सामान्य चिकित्सालय में जहां चिकित्सकों ने टेंट में बैठकर मरीजों का उपचार किया, वहीं जनाना व शिशु अस्पताल में चिकित्सकों ने अपने कक्ष में बैठकर मरीजों की जांच की। एेसे ही हालात जिले के अन्य क्षेत्रों में रहे। संघ की जिला कार्यकारिणी के जनरल सचिव विकास भारद्वाज ने बताया कि चिकित्सकों ने सरकार को तीन दिवस का समय दिया है। यदि इस दौरान उनकी मांगें नहीं मानी गई तो मजबूरन चिकित्सकों को हड़ताल पर जाना पड़ेगा।


आज भी जारी रहेगा विरोध


मांगों को लेकर चिकित्सकों का विरोध मंगलवार को भी जारी रहेगा। इस दिन भी सामान्य चिकित्सालय में चिकित्सक टेंट में बैठकर मरीजों का उपचार करेंगे।

आए कई गंभीर मरीज


सोमवार को राजीव गांधी सामान्य अस्पताल में भारी संख्या में गंभीर मरीज आए। इनमें से जहर खाने वाले, एक्सीडेंट के केस अधिक थे। गंभीर मरीजों के आते ही चिकित्सक सामान्य मरीजों को छोडक़र उनके इलाज में व्यस्त हो जाते। सोमवार को भी कई चिकित्सक अपनी कुर्सियों पर नहीं मिले। सोमवार को भी कई चिकित्सक अपनी कुर्सियों पर नहीं मिले। इससे कई मरीज वापस लौट गए। चिकित्सकों के न होने से परिसर में भीड अधिक हो गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned