बेरहम पिता: पहले पत्नी को पीटा, फिर मां को बचाने आई पांच साल की मासूम बच्ची को छत से नीचे फेंका

अलवर शहर में एक युवक ने अपनी पत्नी को पीटा, मां को बचाने आई पांच साल की बेटी को उसने छत से नीचे फेंक दिया।

By: Lubhavan

Published: 04 Apr 2021, 05:39 PM IST

अलवर. शहर के दिल्ली दरवाजा क्षेत्र में शनिवार शाम को एक युवक ने घरेलू कलह के चलते पहले अपनी पत्नी को पीटा। फिर मां को बचाने आई अपनी पांच साल की मासूम बेटी को छत से नीचे फेंक दिया। बालिका को गंभीर हालत में सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने महिला की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर उसके आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया।

शहर कोतवाली थानाधिकारी राजेश शर्मा ने बताया कि शहर के दिल्ली दरवाजा बाहर मोहल्ला निवासी गोपाल गुप्ता और उसकी पत्नी प्रभावती के बीच शनिवार शाम करीब 4.30 बजे घरेलू कलह के चलते विवाद हो गया। गोपाल गुप्ता अपनी पत्नी प्रभावती के साथ मारपीट कर रहा था। इसी दौरान उसकी पांच वर्षीय पुत्री चांदनी अपनी मां को बचाने लगी। गोपाल गुप्ता ने गुस्से में आकर अपनी पांच वर्षीय बेटी चांदनी को मकान की पहली मंजिल की छत से नीचे फेंक दिया। जिससे बालिका को सिर और हाथ-पैरों में गंभीर चोट आई। परिजनों ने गंभीर हालत में बालिका को सामान्य अस्पताल के ट्रोमा वार्ड में भर्ती कराया। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में लेकर थाने आ गई तथा अस्पताल पहुंचकर बालिका की हालत के बारे में जानकारी की। बालिका की मां प्रभावती की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर उसके आरोपी पति गोपाल गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया।

आए दिन करता रहता है मारपीट

घायल बालिका चांदनी की मां प्रभावती ने बताया कि उसका पति गोपाल कोई काम नहीं करता। जिस कारण वह उसे काम करने की कहता है। वह आए दिन उससे मारपीट करता है। शनिवार शाम को भी वह उससे मारपीट कर रहा था। तभी बच्ची के बीच में आने पर उसने बच्ची को उठाकर छत से नीचे फेंक दिया।

दो दिन पहले ही पीहर से आई थी

प्रभावती ने बताया कि उसकी करीब 7 साल पहले गोपाल से शादी हुई थी। पति गोपाल आए दिन मारपीट करता है। इस कारण वह अपने पीहर बिहार में दोनों बच्चियों के साथ रह रही थी। दो दिन पहले ही वह अपने पीहर से अपने पति के पास लौटी थी।

सामान्य अस्पताल में अपनी मासूम बच्ची को गंभीर घायल अवस्था में देख उसकी मां प्रभावती बार-बार बिलखती रही। उसका रो-रो कर बुरा हाल हो गया। अस्पताल में मौजूद लोग उसे समझाइश कर चुप कराते रहे।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned