पत्रिका ने उजागर किया मामला, तो नगर परिषद से खुद ही भागे बाहरी लोग

Dharmendra Yadav

Publish: Dec, 07 2017 11:48:00 (IST)

Alwar, Rajasthan, India
पत्रिका ने उजागर किया मामला, तो नगर परिषद से खुद ही भागे बाहरी लोग

अलवर नगर परिषद में बाहरी लोगों के कब्जे की पत्रिका में खबर छपने के बाद बाहरी लोग खुद ही भाग गए।

नगर परिषद अलवर में दलाल के रूप में जमे बाहरी व्यक्ति खुद ही गायब हो गए हैं। राजस्थान पत्रिका में मंगलवार को मामला उजागर होने के बाद विभाग के स्तर से कार्रवाई होने से पहले ही एेसे व्यक्ति दफ्तर में नजर नहीं आए। इसके अलावा सुरक्षा गार्डों को अप्रत्यक्ष रूप से थमाई जिम्मेदार वापस ली है।


पत्रिका ने ‘नगर परिषद में भी आरटीओ की तरह दलालों की सीट’ शीर्षक से इस पूरे मामले का खुलासा किया था। जन्म-मृत्यु पंजीयन शाखा में तो एक युवक पिछले कई महीनों से कार्य कर रहा था। बकायदा उसकी सीट लगी थी। प्रमाण पत्र बनाने से पहले तक अहम काम भी उसे संभलवा रखा है। जबकि नगर परिषद के रिकॉर्ड में कहीं उसका नाम नहीं है। न ठेकेदार के जरिए लगा है न संविदा पर। न ही नियमित कर्मचारी है। फिर भी स्थाई कर्मचारी की तरह काम कर रहा था।


अधिकारियों को गुमराह कर बताया खुद का काम कराने आया


सम्बंधित कर्मचारियों से जवाब मांगा तो उन्होंने बाहरी युवक के बारे में बताया कि वह युवक खुद का कार्य कराने आया था। अब नहीं आएगा। जबकि हकीकत यह है कि उस युवक को पूरी जिम्मेदारी दे रखी थी।
सभी फाइलों का रिकॉर्ड भी वही देख रहा था। यह सही है कि खबर प्रकाशित होने के बाद उसका आना बंद हो गया है। कर्मचारियों को हिदायत भी दी है कि आगे से एेसा नहीं होना चाहिए।

सुरक्षागार्ड को टाइपिस्ट के रूप में लगाया

नगर परिषद के अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षागार्ड के रूप में एक दो कर्मचारियों को कार्यालय के काम में लगा रखा है। जो टाइपिस्ट का काम भी कर लेते हैं। उनको किसी शाखा का प्रभारी नहीं बनाया है। जन्म-मृत्यु शाखा के प्रभारी मोतीलाल हैं। आगे से उनकी देखरेख में ही पूरा काम कराया जाएगा।

बाहरी कोई नहीं आएगा


नगर परिषद में बाहरी कोई व्यक्ति कार्य नहीं कर सकता। जिसके बारे में जानकारी मिली है, उसको लेकर जवाब भी मांगा है। वैसे तो यह बताया गया कि वह युवक उस दिन खुद का कार्य कराने आए थे। आगे एेसा नहीं होने दिया जाएगा।


अशोक खन्ना, सभापति, नगर परिषद अलवर।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned