राजस्थान पुलिस के थानों में फेरबदल, सरकार ने थानों का पुलिस अधीक्षक कार्यालय बदला, जानिए आप भी

गृह विभाग ने आदेश जारी कर अलवर जिले के बानसूर और हरसौरा थाने को भिवाड़ी से अलवर पुलिस अधीक्षक के अधीन करने का फैसला किया है।

By: Lubhavan

Published: 03 Mar 2021, 11:50 AM IST

अलवर. सरकार ने बानसूर और हरसौरा पुलिस थाने को फिर से अलवर जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के अधीन कर दिया है। क्षेत्रवासी लम्बे समय से इसके लिए मांग कर रहे थे। गृह विभाग ने अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक से प्रस्ताव मांग कर गत दिनों बजट घोषणा में पुलिस उपाधीक्षक कार्यालय खोलने के लिए प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए है। जल्द ही दोनों थानों का पुलिस सर्किल भी बनेगा। अलवर में भिवाड़ी पुलिस जिले की घोषणा के बाद इन दोनों थानों को जिला पुलिस अधीक्षक भिवाड़ी के अधीन कर दिया था, जिसका क्षेत्र वासियों ने भारी विरोध किया था। इसके विरोध में क्षेत्र में रैली, धरना प्रदर्शन कर एक दिन बानसूर कस्बे को बंद भी रखा गया था। विधायक शकुतंला रावत ने मुख्यमंत्री से मिलकर तथा विधानसभा में बानसूर और हरसौरा को अलवर पुलिस अधीक्षक के अधीन करने की मांग की थी।

भिवाड़ी से आधी दूरी पर अलवर

जिला मुख्यालय बानसूर से भिवाड़ी की दूरी 120 किलोमीटर है। ऐसे में लोगों को शिकायत के लिए लम्बी दूरी तय करनी पड़ती थी। जबकि अब अलवर मात्र 60 किलोमीटर की रहेगा। इससे लोगों को समय के साथ आर्थिक बोझ कम होगा। वहीं भाजपा के प्रदेश मंत्री महेन्द्र यादव, पूर्व यूआईटी अध्यक्ष देवी सिंह शेखावत ने बताया कि पुन: बानसूर और हरसौरा पुलिस थाने को अलवर के अधीन किए जाने की मांग को लेकर कई बार संघर्ष किया गया। जनता की मांगे पूरी हुई। इससे क्षेत्रवासियों का समय के साथ आर्थिक बोझ कम होगा।

जनता की मांग पूरी हुई

प्रद्रेश सरकार ने निर्णय बदलकर क्षेत्रवासियों की मांग पूरी की है। इसके लिए बानसूर वासियों ने पुरजोर विरोध किया था। मेरी ओर से मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर बानसूर ओर हरसौरा पुलिस थाने को अलवर अधीन करने की मांग गई थी। मुख्यमंत्री ने एडीजी को निर्देश देकर बानसूर ओर हरसौरा पुलिस थाने को अलवर के अधीन किए जाने के निर्देशित किया है। इसके लिए मुख्यमंत्री का बहुत बहुत आभार।

डॉ. रोहिताश्व शर्मा, भाजपा नेता

मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी मांग

बानसूर व हरसोरा पुलिस थाने को अलवर एसपी कार्यालय के अधीन करने को लेकर मुख्यमंत्री से मुलाकात कर दोनों पुलिस थाने को अलवर एसपी कार्यालय के अधीन करने की मांग की थी। मुख्यमंत्री ने इस पर बानसूर में डीएसपी कार्यालय खोले जाने का आश्वासन देकर डीएसपी कार्यालय को अलवर के अधीन किए जाने का आश्वासन दिया था। बजट सत्र में मुख्यमंत्री की ओर से डीएसपी कार्यालय खोलने की घोषणा भी कर दी गई है, वहीं बानसूर और हरसौरा पुलिस थाने को भी अलवर एसपी के अधीन करने की मांग की थी।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned