scriptअलवर के नौगांवा की नायाब परंपरा, आज होगा 23 फीट के रावण का दहन…पढ़ें यह न्यूज | Patrika News
अलवर

अलवर के नौगांवा की नायाब परंपरा, आज होगा 23 फीट के रावण का दहन…पढ़ें यह न्यूज

बुजुर्गों की रावण दहन की अनोखी परम्परा को आज भी निभा रहे लोग। इस दिन लगता है मेला। कुश्ती दंगल में कई राज्यों के पहलवान भी दिखाएंगे दम

अलवरApr 19, 2024 / 04:58 pm

Ramkaran Katariya

filter: 0; fileterIntensity: 0.0; filterMask: 0; captureOrientation: 90;
algolist: 0;
multi-frame: 1;
brp_mask:0;
brp_del_th:0.0000,0.0000;
brp_del_sen:0.0000,0.0000;
delta:null;
module: photo;hw-remosaic: false;touch: (-1.0, -1.0);sceneMode: 8;cct_value: 0;AI_Scene: (-1, -1);aec_lux: 0.0;aec_lux_index: 0;albedo: ;confidence: ;motionLevel: -1;weatherinfo: null;temperature: 42;

नौगांवा. बुराई पर अच्छाई, असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक रावण के पुतले का दहन शनिवार को किया जाएगा। एक ओर जहां पूरे देश में रावण का दहन कार्तिक मास में शुक्ल पक्ष की दशमी दशहरे पर रावण का दहन किया जाता है, वहीं सूबे के सिंहद्वार एवं मेवात अंचल के कस्बा नौगांवा में रावण दहन की अनोखी परम्परा है, जिसमें रावण दहन दशहरे पर न होकर रामनवमी महोत्सव के तहत चैत्र द्वादशी के दिन किया जाता है।
यह परम्परा कई दशकों से चली आ रही है। नौगांवा कस्बा अपनी परम्पराओं के लिए जाना जाता है। इनमें एक रावण दहन की भी है। नौगांवावासीबुर्जुेगों की परम्परा का निर्वहन कर रहे हैं। नगर पालिका चेयरमैन राजीव सैनी, सनातन धर्म कमेटी अध्यक्ष नेमीचन्दजांगिड ने बताया कि रामनवमी महोत्सव का आयोजन नगर पालिका नौगांवा और सनातन धर्म कमेटी के संयुक्त तत्वावधान में किया जाता है, जिसके तहत भगवान राम की पालकी और शोभायात्रा निकाली जाती है। शनिवार को रावण के पुतले का दहन होगा और कस्बे में मेले का आयोजन होगा। इस दौरान कुश्ती दंगल का आयोजन भी होगा, जिसमें राजस्थान और हरियाणा सहित अन्य राज्यों के पहलवान भाग लेंगे और विजेताओं को पुरस्कृत किया जाएगा।
23 फीट रावण का होगा दहन

द्वादशी को दहन के लिए पुतले का निर्माण इन दिनों सनातन भवन में चल रहा है और इसे बनाने का काम हरियाणा के फिरोजपुर झिरका के कारीगर कर रहे हैं। कारीगर बताते हैं कि रावण बनाने का काम वो बचपन से कर रहे हैं। उन्हें ये काम अपने बुजुर्गो से विरासत में मिला है। नौगांवा में रावण का पुतला लगभग 23 फीट का तैयार किया जा रहा है, जिसमें आतिशबाजी लगाई जा रही है। कारीगरों ने बताया कि पूर्व में हरियाणा के फिरोजपुर झिरका में भी रावण का दहन दशहरे के स्थान पर चैत्र द्वादशी को ही होता था, लेकिन बदलते परिवेश के साथ वहां अब दशहरे पर ही रावण दहन होने लगा है। क्षेत्र में केवल नौगांवा में ही रावण दहन इस समय होता है, जो लोगों में चर्चा का विषय रहता है, जिसे देखने के लिए हरियाणा के लोग बडी संख्या में आते हैं।

Hindi News/ Alwar / अलवर के नौगांवा की नायाब परंपरा, आज होगा 23 फीट के रावण का दहन…पढ़ें यह न्यूज

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो