अलवर में महिला ने अपने तीन बच्चों को लेकर कुएं में कूदकर दी जान, जानिए क्या रहा कारण

अलवर में महिला ने अपने तीन बच्चों को लेकर कुएं में कूदकर दी जान, जानिए क्या रहा कारण

Hiren Joshi | Publish: Sep, 05 2018 06:03:40 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/alwar-news/

खेरली कस्बे के समीपवर्ती ग्राम खोंकर में एक महिला ने गृहक्लेश तथा ससुराल पक्ष के लोगो से परेशान होकर अपने मासूम 3 बच्चो के साथ गांव के कुएं में कूद कर जान दे दी। घटना के बारे में घरवालो को देर रात्रि पता चलने पर खबर आग की तरह पूरे गांव में फैल गई। ग्रामीणों ने मामले की जानकारी स्थानीय खेरली थाना पुलिस व प्रशासन को दी। जिस पर मौके पर पहुंचे पुलिस व प्रशासन ने मृतका सहित मासूम बच्चों को ग्रामीणों के सहयोग से कुए से बाहर निकलवाया। जिनका आज बुधवार दोपहर को खेरली स्थित सीएचसी में पोस्टमार्टम किया गया।

थानाधिकारी उमेश बेनीवाल ने बताया कि मामले में रैणी थानाक्षेत्र के ग्राम पाण्डेरूपबास निवासी मृतका के भाई नरेश पुत्र रोशनलाल जाटव ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमे बताया कि बर्ष 2013 में उन्होंने अपनी बहन सरोज की शादी खोंकर निवासी बबली उर्फ बब्बल पुत्र रामप्रसाद बैरबा के साथ कि थी। शादी के कुछ दिन बाद से सरोज के ससुराल पक्ष से उसका पति बबली, ससुर रामप्रसाद तथा सास कमला आये दिन उसके साथ दहेज की मांग को लेकर लड़ाई झगड़ा तथा उसके साथ मारपीट करने लगे। जिसकी शिकायत सरोज ने अनेक बार पीहर वालो से की।

इस पर पीहर पक्ष के लोगो ने ग्राम के लोगो को भी साथ लेकर उन्हें कई बार समझाइश की। लेकिन उसके ससुराल पक्ष के लोग उसे जान से मारने की धमकी देने लगे। इसके अलावा ये लोग सरोज के बालकों के साथ भी मारपीट करने लगे थे। जिससे परेशान होकर मंगलवार को सरोज अपने तीनो बच्चों विपिन 5 बर्ष, नितिन 3 बर्ष और दीप्ति 1 बर्ष को लेकर कुए में कूद गई। पुलिस ने मामले को दर्ज किया। उक्त मामले की जांच लक्ष्मणगढ़ व्रताधिकारी ओमप्रकाश मीना कर रहे है।

Read More : राजस्थान के इस पुलिस थाने में 6 दिन में बदल दिए चार थानाधिकारी, एक ने की मात्र 7 घंटे ड्यूटी, जानिए क्या है कारण

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned