हरियाणा: अंग्रेजी में फर्राटे से बोलेंगे हमारे बच्चे, जाने कैसे

सभी ब्लाक में खुलेंगे संस्कृति मॉडल स्कूल।
जिला स्तरीय स्कूलों में सफल हुआ पायलट प्रोजेक्ट।
अब सरकार करेगी इसी साल विस्तार।

चंडीगढ़. हरियाणा के ग्रामीण अंचल में रहने वाले विद्यार्थी भी अब न केवल मॉडल स्कूलों की तर्ज पर बेहतर शिक्षा हासिल कर सकेंगे, बल्कि समय के अनुकूल आधुनिक शिक्षा भी हासिल कर सकेंगे। हरियाणा सरकार ने चालू वर्ष के दौरान प्रदेश के सभी ब्लाक में संस्कृति मॉडल स्कूल खोलने का फैसला किया है। इससे पहले सरकार प्रदेश के सभी जिलों में जिला स्तर पर संस्कृति मॉडल स्कूल संचालित करके पायलट प्रोजेक्ट को सफल बना चुकी है।
मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने पहले कार्यकाल के दौरान जिलास्तर पर इन स्कूलों की स्थापना की थी। जिसके बेहतर परिणाम आने के बाद अब मुख्यमंत्री ने इसके विस्तार के निर्देश जारी किए हैं। हरियाणा के 119 ब्लॉकों में से 107 ब्लॉकों को सक्षम और 86 प्रतिशत छात्रों को ग्रेड-स्तर का सक्षम घोषित किया जा चुका है। सरकार द्वारा पहले कार्यकाल के दौरान ब्लॉक रिसोर्स पर्सन(बीआरपी) और असिस्टेंट ब्लॉक रिसोर्स पर्संस (एबीआरपी) के 1300 से अधिक पदों पर अनुबंध आधार पर भर्तियां की गई हैं। बीआरपी और एबीआरपी स्कूलों में प्रतिदिन दो से ढाई घंटे विद्यार्थियों को दी जाने वाली शिक्षा पर नजर रखते हैं।
सूत्रों के अनुसार प्रदेश के सभी 119 ब्लाकों में संस्कृति मॉडल स्कूलों की स्थापना के लिए स्थान चिन्हित किए जा चुके हैं। जिला शिक्षा अधिकारियों द्वारा जनवरी माह के दौरान इस संबंध में रिपोर्ट मुख्यालय को भेज दी जाएगी, जिसके बाद स्कूलों की स्थापना का काम शुरू होगा।
पता करेंगे विद्यार्थियों का रूझान
हरियाणा सरकार ने सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले विद्यार्थियों का रूझान पता करने के लिए भी सर्वे के निर्देश जारी किए हैं। मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने निर्देश जारी किए हैं कि विज्ञान तथा अन्य संकायों में विद्यार्थियों के दाखिला अनुपात का पता किया जाए, ताकि विद्यार्थियों की रुचि का पता लगाया जा सके। भविष्य में सरकार विद्यार्थियों के रूझान को देखते हुए अपनी शिक्षा नीति तैयार करेगी।
कैसे होंगे संस्कृति मॉडल स्कूल
प्रदेश में खुलने वाले इन संस्कृति मॉडल स्कूलों में प्रवेश परीक्षा के आधार पर होगा। इनमें पढ़ाने वाले टीचरों का भी अलग से चयन किया जाता है। स्कूल में वेलमेंटेन लाईब्रेरी होगी व खेलने की कई सुविधाएं होंगी। इसके साथ ही बच्चों के लिए हाईटैक कंप्यूटर लैब होगी। इन स्कूलों का मुख्य उद्देश्य निजी क्षेत्र के स्कूलों को पूरी तरह से पीछे छोडऩा होगा।
साल के अंत तक स्थापना का लक्ष्य

हरियाणा: अंग्रेजी में फर्राटे से बोलेंगे हमारे बच्चे, जाने कैसे

सरकार ने प्रदेश के सभी ब्लाकों में संस्कृति मॉडल स्कूल स्थापित करने की योजना पर काम शुरू कर दिया है। जिला स्तरीय अधिकारियों से रिपोर्ट मांग ली गई है। इसके लिए बकायदा बजट में प्रावधान किया जाएगा। इसी साल के अंत तक स्कूलों की स्थापना का लक्ष्य रखा गया है।
कंवरपाल गुर्जर, शिक्षा मंत्री, हरियाणा

satyendra porwal Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned