नाबालिग ने साथी के साथ मकान मालिक के घर से चुराए थे 4 लाख के सोने के जेवर, खरीदार समेत 3 भी गिरफ्तार

Jwellery theft: पिता के साथ रहता था घर में, मकान मालिक के परिवार (Family) के साथ बाहर जाने का फायदा उठा दिया वारदात (Theft) को अंजाम

By: rampravesh vishwakarma

Published: 22 Nov 2020, 10:45 PM IST

अंबिकापुर. 24 दिन पूर्व शहर के बाबूपारा स्थित एक सूने मकान से अज्ञात चोरों ने चार लाख रुपए के जेवरात पार (Jwellery theft) कर दिए थे। मकान मालिक ने इसकी रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज कराई थी। अज्ञात के खिलाफ अपराध दर्ज कर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी।

मुखबिर से पुलिस को जानकारी मिली कि एक नाबालिग कुछ दिनों से अनाप-शनाप रुपए खर्च कर रहा है। पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपने एक साथी के साथ चोरी (Theft) करने व जेवरात एक सर्राफा दुकान में बेचने की बात बताई।

इस पर पुलिस ने खरीदार व नाबालिग सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी नाबालिग इसी मकान में पिता के साथ रहता था। उसका पिता मकान मालिक के घर में काम करता था।


शहर के जेल रोड स्थित बाबूपारा निवासी आशीष सरकार 26 अक्टूबर को परिवार के साथ बाहर गया था। उसने पूर्व पार्षद जीवन यादव को मकान की देखरेख की जिम्मेदारी दी थी। पूर्व पार्षद रोज रात को अपने साथी के साथ सोने जाते थे। 27 की रात को जब सोने गए तो मकान का ताला टूटा (Lock break) हुआ था।

नाबालिग ने साथी के साथ मकान मालिक के घर से चुराए थे 4 लाख के सोने-चांदी के जेवर, खरीदार समेत 3 भी गिरफ्तार

चोरी का संदेह होने पर उन्होंने इसकी जानकारी आशीष सरकार को दी। सूचना पर आशीष तत्काल अपने घर पहुंचे और सामान का मिलान किया। पता चला कि आलमारी में रखे 4 लाख के जेवर (4 lakh jwellery) गायब थे। इसके बाद आशीष ने इसकी रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज कराई थी। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी थी।

इसी बीच कोतवाली टीआई भारद्वाज सिंह को मुखबिर से जानकारी मिली कि एक नाबालिग कुछ दिनों से अनाप-शनाप रुपए खर्च कर रहा है। पुलिस ने उससे पूछताछ की तो उसने चोरी करने की बात स्वीकार की।

नाबालिग ने बताया कि उसने अपने साथी बाबूपारा निवासी ज्ञान प्रकाश तिग्गा के साथ मिलकर आशीष सरकार के सूने मकान से जेवरात चोरी की वारदात को अंजाम दिया था।


मकान मालिक के ही घर में ही रहता था नाबालिग
पुलिस ने बताया कि नाबालिग आरोपी का पिता मकान मालिक आशीष सरकार के ही घर में काम करता है और वहीं रहता है। आशीष सरकार के अपने परिवार के साथ बाहर जाने के बाद नाबालिग ने अपने साथी के साथ मिलकर 27 अक्टूबर की दोपहर मकान में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। दोनों ने एक घंटे में सारे जेवरात पार कर दिए थे।


नाबालिग ने बेच दिए थे अपने हिस्से के जेवर
नाबालिग ने अपने हिस्से का जेवर महामाया चौक स्थित शशि सोनी के दुकान में बेच दिया था। नाबालिग की निशानदेही पर पुलिस ने शशि सोनी की दुकान से 3 नग सोने का चेन, 3 नग सोने का लॉकेट, 1 जोड़ी सोने का कान का झाला तथा नाबालिग के पास से 1 नग अंगूठी व 15 सौ रुपए नगद बरामद किया है।

वहीं आरोपी ज्ञान प्रकाश तिग्गा उर्फ बबलू के पास से 1 नग सोने का हार, 1 जोड़ी सोने की चूड़ी, 1 जोड़ी सोने का कान का टप्स, नकद 1 हजार रुपए बरामद किया गया है। पुलिस ने आरोपी ज्ञान प्रकाश तिग्गा उर्फ बबलू व खरीदार शशि सोनी के खिलाफ कार्रवाई कर उन्हें जेल भेज दिया है।

वहीं नाबालिग को बाल संप्रेक्षण गृह भेज दिया गया है। कार्रवाई में राकेश सिंह, सत्येंद्र दुबे, बृजेश राय, मोहन पवार, आलोक गुप्ता, कुन्दन सिंह व अनिल विश्वकर्मा शामिल रहे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned