खुले में लघुशंका करते पकड़ा गया दुकानदार, जानिए फिर क्या हुआ उसके साथ

खुले में लघुशंका करते पकड़ा गया दुकानदार, जानिए फिर क्या हुआ उसके साथ

rampravesh vishwakarma | Publish: Jan, 13 2018 10:19:16 PM (IST) Ambikapur, Chhattisgarh, India

गांधी स्टेडियम में खुले में कर रहा था टॉयलेट, दिन-रात चल रही सफाई फिर भी जागरूक नहीं हो रहे लोग

अंबिकापुर. खुले में लघुशंका करना एक दुकानदार को महंगा पड़ गया। सफाई अभियान में जुटी निगम की टीम ने एक दुकानदार को खुले में लघुशंका करते पकड़ लिया। इसके बाद उक्त दुकानदार को 500 रुपए का जुर्माना भरना पड़ गया। यह वाक्या नगर के खेल का केंद्र गांधी स्टेडियम मैदान का है।

जब नगर निगम के अधिकारी गांधी स्टेडियम में शौचालय की सफाई करवा रहे थे तभी दुकानदार स्टेडियम में लघुशंका करने पहुंच गया और पकड़ा गया। गौरतलब है कि निगम द्वारा खुले में शौच व टॉयलेट करने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है।


स्वच्छता सर्वेक्षण के मद्देनजर भारत सरकार की टीम अंबिकापुर पहुंची है। शहर को पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी स्वच्छ सिटी का प्रथम पुरस्कार मिल सके इसके लिए जिला प्रशासन व नगर निगम की टीम दिन रात सफाई अभियान में जुटी है।

 

Receipt

गली हो यहां चौक चौराहा या फिर सार्वजानिक शौचालय हर जगह की सफाई की जा रही है। प्रशासन के साथ साथ शहर की जनता भी स्वच्छता अभियान में अपना भरपूर सहयोग दे रही है। लेकिन शहर में कुछ ऐसे लोग भी है जिनका स्वच्छता से कोई सरोकार नहीं है, ऐसे ही लोग खुले में शौच या लघुशंका कर रहे हैं।

लेकिन इनके खिलाफ निगम भी कड़ाई से पेश आ रही है और 500 रुपए तक का जुर्माना लगा रही है। ऐसा ही एक मामला शनिवार की दोपहर देखने को मिला। गांधी स्टेडियम में नगर निगम के कई अधिकारी सहित मुख्य स्वच्छता निरीक्षक अवधेश पांडे स्टेडियम स्थित शौचालय की साफ -सफाई करा रहे थे।

इसी दौरान वार्ड क्रमांक 15 स्थित स्टेडियम काम्प्लेक्स दुकान नंबर-3 के संचालक स्टेडियम के अंदर लघुशंका करने पहुंचा गए। वह शौचालय में न जाकर खुले में लघुशंका करते लगे और पकड़े गए। उनसे देवीगंज एसएलआरएम सेंटर ने खुले में लघुशंका करने का 500 जुर्माना वसूल किया।

जानकारी के अनुसार पिछले कुछ महीनों में निगम ने शहर के विभिन्न स्थानों से खुले में लघुशंका करते लगभग 500 लोगों को पकड़ा है जिनसे 500 -500 रुपए का जुर्माना वसूल किया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned