आखिरकार जागी ब्राजीलियाई सरकार, अमेजन के जंगलों में लगी आग से निपटने के लिए भेजी सेना

आखिरकार जागी ब्राजीलियाई सरकार, अमेजन के जंगलों में लगी आग से निपटने के लिए भेजी सेना

Shweta Singh | Updated: 24 Aug 2019, 11:03:43 AM (IST) अमरीका

  • अमेजन के वर्षावन में 13 अगस्त को लगी थी आग
  • विश्व मौसम संगठन ने बताया वातावरण में कार्बन मोनोऑक्साइड फैलाएगी यह आग

ब्रासीलिया। ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो ने आखिरकार अमेजन के जंगलों पर लगी आग बुझाने के लिए एक बड़ा कदम उठाया है। राष्ट्रपति बोलसोनारो ने सेना को अमेजन के जंगलों में लगी आग से निपटने में मदद करने के आदेश दिए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में शनिवार को बताया गया कि बोलसोनारो द्वारा जारी फरमान में प्रशासन को सीमाई, आदिवासी और संरक्षित इलाकों में सेना की तैनाती करने के लिए कहा गया है।

यूरोपीय नेताओं के दबाव का दिखा असर

आपको बता दें कि यूरोपीय नेताओं के दबाव के बाद यह घोषणा सामने आई है। इससे पहले फ्रांस और आयरलैंड ने कहा था कि वे तब तक इस दक्षिणी अमरीकी देश के साथ व्यापार सौदे को मंजूरी नहीं देंगे जब तक कि वह अमेजन में लगी आग से निपटने के लिए कुछ नहीं करता। यही नहीं, फिनलैंड के वित्त मंत्री ने भी यूरोपीय संघ से ब्राजील के बीफ आयात पर प्रतिबंध लगाने के बारे में विचार करने के लिए कहा है।

photo6271808243063957631.jpg

कई प्रदर्शनों के बाद हो रही है कार्रवाई

इसके अलावा पर्यावरण समूहों ने आग से निपटने की मांग करते हुए शुक्रवार को ब्राजील के कई शहरों में प्रदर्शन किए। लंदन, बर्लिन, मुंबई और पेरिस समेत दुनिया भर में ब्राजील के दूतावासों के बाहर भी सैकड़ों प्रदर्शनकारी एकत्र हुए। इनमें से एक प्रदर्शनकारी लॉरा विलारेस हाउस ने मीडिया को बताया, 'हम अब लंदन में भी आसमान काला होने जाने तक खड़ा होकर इंतजार नहीं करेंगे।'

अमेजन की दुर्दशा के लिए सरकार दोषी

इससे पहले बोलसोनारो ने कहा है कि उनकी सरकार के पास क्षेत्र में बड़े पैमाने पर लगी आग से निपटने के लिए संसाधनों की कमी है। लेकिन संरक्षणवादियों ने अमेजन की दुर्दशा के लिए उनकी सरकार को दोषी ठहराया है। इन लोगों का कहना है कि बोलसोनारो ने लकड़हारों और किसानों को भूमि के सफाये के लिए प्रोत्साहित किया है, जिससे वर्षावनों की कटाई में तेजी आई है। आपको बता दें कि दुनिया के सबसे बड़े वर्षावन अमेजन (Amazon Rainforest) को ऑक्सीजन के मुख्य स्रोत के रूप में जाना जाता है। इस दुनिया का फेफड़ा भी कहा जाता है।

गुटेरेस का ट्वीट

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने गुरुवार को ट्वीट किया, 'वैश्विक जलवायु संकट के बीच, हम ऑक्सीजन और जैव विविधता के एक प्रमुख स्रोत का अधिक नुकसान नहीं सहन कर सकते। अमेजन को संरक्षित किया जाना चाहिए।'

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned