न्यूजर्सी: आसमान से अचानक होने लगी पैकटों की बौछार, ट्रंप के नाम लिखा था ये बड़ा संदेश

न्यूजर्सी: आसमान से अचानक होने लगी पैकटों की बौछार, ट्रंप के नाम लिखा था ये बड़ा संदेश

Shweta Singh | Publish: Aug, 11 2018 02:40:49 PM (IST) अमरीका

मामला वहां के दक्षिण बैडमिंस्टर के सोलर पैनल मैदानों के पास सामने आया। बता दें कि राष्ट्रपति ट्रंप वहां छुट्टियां बिता रहे हैं।

वाशिंगटन। न्यूजर्सी के लोग उस वक्त हैरान रह गए जब अचानक उनके सर पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नाम के पैकट की बौछार होने लगी। इस पैकेट में राष्ट्रपति ट्रंप की तरफ से एक खास संदेश भी लिखा हुआ था। ये मामला वहां के दक्षिण बैडमिंस्टर के सोलर पैनल मैदानों के पास सामने आया। बता दें कि राष्ट्रपति ट्रंप वहां छुट्टियां बिता रहे हैं।

पैकेट में हाथ से लिखा संदेश भी शामिल

आसमान से गिराए जा रहे पैकेट स्कॉयर शेप के थे, जो मंगलवार दोपहर को केंडल पार्क में एक लाल पैराशूट की मदद से गिराए जा रहे थे। ये अजीब वाकया यही नहीं थमा। दरअसल पैकेज पर एक हस्तलिखित संदेश था जिस पर लिखा गया था: 'नासा वायुमंडलीय अनुसंधान का उपकरण, कोई बम नहीं है! अगर यह राष्ट्रपति के पास गिरता है, तो हम नासा की ओर से उन्हें गोल्फ का एक शानदार दौरा की कामना करते हैं।'

पुुलिस के पास लगातार आ रही थी इस संबंध में कॉल

इस संबंध में पुलिस को लगातार कॉल पर जानकारियां मिलने लगी जिससे वो चिंतित हो गए। पुलिस ने कहा एक कॉलर ने वहां फोन पर कहा "हम मजाक नहीं कर रहे, हमारे पास अभी एक पैकेज था जो पैराशूट से गिराया गया है, परेशानी की बात है कि इस बात पर एक राष्ट्रपति के नाम का नोट है।" इस मामले की जानकारी मिलते ही पूरे इलाके को तुरंत खाली करा दिया गया और बम निरोधक दस्तों को तुरंत मौके पर निरीक्षण के लिए भेज दिया गया।

जांच में हुआ ये खुलासा

हालांकि जांच के बाद जो सच्चाई सामने आई उसके मुताबिक, बॉक्स को नासा की ओर से भेजा गया था। यह एक मौसम निगरानी उपकरण था। दक्षिण ब्रंसविक पुलिस विभाग ने एक बयान में कहा, "मौसम शोधकर्त डिवाइस पर हाथ से लिखे गए नोट के चलते मची अफरा-तफरी के लिए थे।"

नासा का बयान

वहीं नासा की प्रवक्ता जेडी हैरिंगटन ने भी दुर्घटना के बारे में बात की। उनके मुताबिक बॉक्स में ओजोन को मापने के लिए एक मौसम गुब्बारा उपकरण था। ये भी कहा जा रहा है कि भेजे गए ऐसे छह मौसम उपकरणों में से केवल एक ही वापस बरामद किया गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned