अमरीका ने सिख सैनिक के लिए 246 साल का इतिहास बदला, मिल गई पगड़ी पहनने की अनुमति

इसी साल सुखबीर तूर को कैप्टन के रूप में पदोन्नति मिली तो उन्होंने अपील करने का फैसला किया।

By: Mohit Saxena

Updated: 27 Sep 2021, 09:16 PM IST

वाशिंगटन। अमरीकी मरीन कॉर्प्स में 26 वर्ष के एक सिख अधिकारी को अब पगड़ी पहनने की अनुमति दी गई है। अमरीकी सेना के 246 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब किसी सिख अधिकारी को पगड़ी पहनने की इजाजत दी गई है। हालांकि, सैनिक ने पूर्ण धार्मिक आजादी की मांग की है। ऐसा न होने पर मुकदमा करने पर विचार कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बीते पांच वर्ष से हर सुबह लेफ्टिनेंट सुखबीर तूर मरीन की वर्दी पहन रहे थे। गुरुवार को उन्हें सिख पगड़ी को पहनने का मौका मिला। रिपोर्ट के अनुसार मरीन कॉर्प्स के 246 वर्ष के इतिहास में तूर को पहली बार अनुमति मिली है।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में जिन्ना के स्टेच्यू को बम से उड़ाया, इमरान सरकार हालात संभालने में नाकाम

तूर ने अपील का फैसला लिया

तूर ने एक साक्षात्कार में कहा कि 'आखिरकार मुझे अपने विश्वास और अपने देश में से चुनने के लिए मजबूर नहीं होना पड़ा। मैं जैसा हूं, वैसा ही रहते हुए दोनों का सम्मान करता रहूंगा। तूर के अनुसार जब उन्हें इसी साल कैप्टन के रूप में पदोन्नति मिली तो उन्होंने अपील करने का फैसला किया।'

पगड़ी पहनने को लेकर रखी शर्त

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तूर ने इस अधिकार को पाने के लिए काफी संघर्ष करा है। इस वर्ष पदोन्नति पाकर जब कैप्टन बने तो उन्होंने अपील करने का फैसला किया। वाशिंगटन और ओहायो में पले बढ़े भारतीय प्रवासी के बेटे तूर को कुछ जगहों पर पगड़ी पहनने की अनुमति मिली है। मगर युद्ध क्षेत्र में तैनात होने पर वह ऐसा नहीं कर सकेंगे।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned