भूमि पूजन में शामिल होंगे यह फायरब्रांड संत, मंदिर निर्माण के लिए 17 बार जल समाधि व 54 बार ले चुके हैं भू समाधि

राम मंदिर निर्माण के लिए 29 साल तक तपस्या करने वाले अमेठी में सागरा आश्रम पीठाधीश्वर अभय चैतन्य मौनी महाराज को अयोध्या से बुलावा आया है।

By: Abhishek Gupta

Updated: 30 Jul 2020, 10:21 PM IST

अमेठी. राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir) के लिए 29 साल तक तपस्या करने वाले अमेठी (Amethi) में सागरा आश्रम पीठाधीश्वर अभय चैतन्य मौनी महाराज को अयोध्या (Ayodhya) से बुलावा आया है। पांच अगस्त को मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन है और अमेठी के मौनी महाराज उसमें शामिल होंगे। वह एक अगस्त से प्रभु श्रीराम की नगरी अयोध्या में ही रहेंगे। बाबूगंज सागरा आश्रम के पीठाधीश्वर एवं एक फायरब्रांड संत की पहचान रखने वाले मौनी महाराज ने कहा कि प्रभु के मंदिर के लिए तपस्या उनकी अब पूरी हुई है। पिछले 29 सालों से मंदिर निर्माण के सपने को साकार करने में लगा था। पिछले 29 साल से अब तक 1,488 किलोमीटर लेटकर परिक्रमा की है। अमेठी के सागरा आश्रम से काशी और अयोध्या तक पद यात्रा की है। प्रभु के मंदिर निर्माण के लिए वह अब तक 55 बार भू-समाधि और 17 बार जल समाधि भी ले चुके हैं।

ये भी पढ़ें- काशी-मथुरा विवाद सुप्रीम कोर्ट में, पक्षकार बनने के लिए पीस पार्टी ने दी याचिका

मौनी महाराज भूमिपूजन में शामिल होने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि अयोध्या से लगातार महात्माओं के फोन आ रहे हैं। 492 वर्षों के बाद ऐतिहासिक प्रभु श्रीराम के भूमि पूजन कार्यक्रम के वह भी साक्षी बनेंगे। राम मंदिर को लेकर अमेठी समेत देश प्रदेश के विभिन्न स्थलों में अनुष्ठान होते रहे हैं। मौनी महाराज भव्य श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए हर साल सावन माह में कई लाख दीप जलाकर प्रभु श्रीराम मंदिर निर्माण की भगवान महाकाल से प्रार्थना करते हैं।

ये भी पढ़ें- बलिया और हरदोई के जांबाज देश में लेकर आए राफेल, घर परिवार में दिखा जश्न का माहौल

हर सनातनी के लिए गर्विंत होने का दिन है-
मौनी महाराज हर साल नवरात्र व सावन में बड़े धार्मिक अनुष्ठान को करते हैं। प्रयागराज के संगम में भी उनके हर वर्ष अनुष्ठान में श्रीराम मंदिर निर्माण का संकल्प प्रमुखता से रहता है। अब जब श्रीराम मंदिर के निर्माण की घड़ी समीप आ गई है तो मौनी महाराज ने कहा कि हर सनातनी के लिए गर्वित होने का दिन आ गया है।

BJP Narendra Modi
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned