राहुल के जनेऊ और गोत्र पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी का प्रहार

राहुल के जनेऊ और गोत्र पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी का प्रहार

Neeraj Patel | Updated: 03 May 2019, 08:35:06 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी गौरीगंज में अपनी सभा के दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तीखे हमले किए

अमेठी. केद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के समर्थन मे बीजेपी सांसद मनोज तिवारी शुक्रवार को जनसभा करने पहुंचे। गौरीगंज में अपनी सभा के दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तीखे हमले किए। उन्होंने कहा एक तरफ जनेऊ पहनने लगते हैं, एक तरफ अपना गोत्र बताने लगते हैं। मनोज तिवारी को कभी अपना गोत्र बताने की जरूरत नही पड़ी इस देश में।

उन्होंने आगे कहा कि हमारे पिता जी का नाम क्या है, हमारे दादा का नाम क्या है?

क्योंकि जब ये पता करना होगा तो राहुल जी बड़ा बुरा फंसेगे। राहुल जी पूरा नाम क्या लिखते हैं, राहुल गांधी। हमको समझ मे ही नही आया गांधी कौन इनके परिवार मे था। भईया हमार नाम मनोज तिवारी, हमार बाऊ जी के नाम चंद्रदेव तिवारी, हमरे बाऊ जी के बाऊ जी का नाम राम अनंत तिवारी, उनके बाऊ जी के नाम विश्वनाथ तिवारी। उन्होंने लोगो से कहा आप लोगो का भी ऐसा ही होगा न। लेकिन ये इतना बड़ा धोखा देके बैठा हुआ है और हम लोग चेहरे पे चले गए। हम लोग इसलिए कह रहे के हम भी तो पहले ऐसे ही सोचते थे जैसे अमेठी सोचती थी। हम भी उन लोगो को अच्छा ही मानते थे समझ ही में नहीं आया कर क्या रहे हैं।

 

लेकिन अब हम इनका नाम पता करेंगे। इनका नाम राहुल गांधी। इनके बाऊ जी का नाम राजीव गांधी। इनके बाबू जी के बाबू जी के नाम मे गांधी है ही नही फिरोज खान। फिरोज जहांगीर खान, अब मैं समझ रहा हूं ये खान का नाटक कर रहे हैं या नेहरू का नाटक कर रहे हैं। और उनके आगे चलिए तो जवाहर लाल नेहरू। तो नेहरूओ छोड़ दिए खानो छोड़ दिए अब एक ठो गांधी पकड़कर चल रहे हैं।

वो इतने ही पर नही रुके उन्होंने कहा अभी भोपाल मे कांग्रेस के एक सांसद ने दिग्विजय सिंह की सभा मे कहा कांग्रेस जिन्ना के सिद्धांतो पर चलती है। उसको जिसने बोला उसको कांग्रेस से निकाला नही गया। जिन्ना कौन है? ये मोहम्मद अली जिन्ना वही शख्स है जिसने हमारी हंसती खेलती भारत की बगिया को दो फाड़ करवा दिया। पाकिस्तान बनवा दिया वरना आज हमारा भारत विशाल भारत होता और दुनिया को हम अपनी ताकत से ललकारते। उस विभाजन मे हमारे लाखो लोग काट दिए गए।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned