अमेठी में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व उत्साह, उल्लास शान्तिपूर्ण ढंग के साथ मनाया गया

अमेठी में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व उत्साह, उल्लास शान्तिपूर्ण ढंग के साथ मनाया गया

Mahendra Pratap | Publish: Sep, 03 2018 07:42:25 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

कृष्ण के विभिन्न नाम कृष्णा, गोपाल, लल्लाजी, मुरलीधर, मधुसूदन, माधव, कान्हा, मोहन के बारे में बताया गया

अमेठी. अमेठी के पूरे जिले में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व उत्साह, उल्लास शान्तिपूर्ण ढंग के साथ मनाया गया। शहर के रायपुर फुलवारी स्थित सेपियन स्कूल अमेठी के बच्चों ने कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व बड़े धूमधाम के साथ मनाया। इस मौके पर रंग बिरंगे परिधानों में बच्चों ने राधा कृष्ण की झांकी प्रस्तुत की। उन्हें इस पर्व के महत्व के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी। बच्चों को मुरली, मोरपंख, माखन, मिश्री के शब्दों से परिचित कराया गया और कृष्ण के विभिन्न नाम कृष्णा, गोपाल, लल्लाजी, मुरलीधर, मधुसूदन, माधव, कान्हा, मोहन के बारे में बताया गया।

ईमानदारी के साथ काम करने की दी सीख

इस मौके पर बच्चों ने दही हांडी का भी आनन्द लिया। बच्चों ने फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता में भी हिस्सा लिया और जन्माष्टमी की झांकी भी सजायी। स्कूल के डायरेक्टर एवं प्रिंसिपल ने इस पर्व की बधाई देते हुए कहा कि कृष्ण के जीवन से सदा कुछ सीखते रहना चाहिये। हमें प्रण लेना चाहिए कि बिना किसी फल की चिन्ता किये बगैर इमानदारी के साथ अपना कार्य करें। तभी हम जीवन में सफल होंगे।

एक से बढ़कर एक झांकी

वहीं पर कोतवाली अमेठी में बड़े ही धूमधाम से यह त्योहार मनाया गया। भगवान श्रीकृष्ण का प्राकट्य दिवस जन्माष्टमी का पर्व रविवार को जिले भर में हर्षोल्लास पूर्ण तरीके से मनाया गया। रात 12 बजे घरों-मंदिरों में पूजन-अर्चन किया गया। इसको लेकर मंदिरों के अलावा घरों व सार्वजनिक स्थलों पर एक से बढ़कर एक झांकी बनाई गई थी। लोगों ने भक्ति भाव से भगवान का जन्मोत्सव कराकर मंदिरों में देर रात तक पूजन-अर्चन किया। भगवान के जन्मोत्सव को लेकर सजाया गया था। जगह-जगह लोगों के घरों में भी भगवान श्रीकृष्ण के डोल रखे गए, जहां एक से बढ़कर झांकियां सजाई गई हैं। नगर के सभी प्रमुख मंदिरों में भी प्रभु श्रीकृष्ण की झांकी सजाई गई हैं। ऐसे में पर्व को लेकर जिले भर में उल्लास उत्साह का माहौल बना है।

Ad Block is Banned