गाड़ी पर यूपी सरकार का लोगो लगाकर यहां हो रहा था बड़ा गलत काम, पुलिस ने पकड़ा तो उड़ गए होश

गाड़ी पर यूपी सरकार का लोगो लगाकर यहां हो रहा था बड़ा गलत काम, पुलिस ने पकड़ा तो उड़ गए होश

Abhishek Gupta | Publish: Dec, 08 2018 08:11:13 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

अमेठी में सफारी कार पर यूपी सरकार का लोगो लगातक गलत काम को अंजाम दिया जा रहा था, जिसका खुलासा होने पर पुलिस के होश उड़ गए।

अमेठी. अमेठी में सफारी कार पर यूपी सरकार का लोगो लगातक गलत काम को अंजाम दिया जा रहा था, जिसका खुलासा होने पर पुलिस के होश उड़ गए। दरअसल यूपी में अवैध शराब के सेवन से बराबर मौतों की ख़बर आ रही, बावजूद इसके कारोबारी अपने कृत्य से बाज़ नहीं आ रहे। इसी क्रम जिले की क्राइम ब्रांच और थाने की पुलिस ने 40 लाख की अवैध शराब के साथ आधा दर्जन से ज्यादा अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। खास बात यह है कि पुलिस ने जिस जगह से इसका भांडाफोड़ किया वो एक बीजेपी नेता का गोदाम है, जहां पूर्व में राइस मिल चलती थी।

ये भी पढ़ें- भाजपा ने नहीं अखिलेश यादव ने दिखाई मनावता, मृत्यु की कगार पर पहुंची इस बिटिया को दी बहुत बड़ी मदद, किसी भी सरकार ने नहीं किया था ऐसा

40 हजार के रेंट पर बीजेपी नेता राजेन्द्र पासी ने दिया था गोडाउन-

एसपी अमेठी अनुराग आर्य ने जानकारी देते हुए बताया कि क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि कमरौली थाना क्षेत्र में अवैध शराब का रैकेट चल रहा है। इस पर क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस की टीम ने दबिश दिया। दबिश में मौके से आधा दर्जन से ऊपर अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। एसपी ने बताया के सुनील गोस्वामी नाम का व्यक्ति रैकेट का संचालन कर रहा था। उसने बीजेपी नेता राजेन्द्र पासी का गोडाउन 40 हजार के रेंट पर ले रखा था। यहां तीन महीनेे से ये काम बदस्तूर चल रहा था। शनिवार को पुलिस ने किए वर्क आउट में करीब 1,200 लीटर शराब बरामद की है, इसके अलावा 8,200 लीटर तैयार केमिकल जो की 41 ड्रमों में तैयार किए गए थे, इससे करीब 20 हजार लीटर शराब तैयार होनी थी। वहीं पुलिस ने एक सफारी गाड़ी भी बरामद की है जिस पर यूपी सरकार का लोगो लगा हुआ है। यह देख पुलिस के भी होश उड़ गए। एसपी ने बताया फरार अभियुक्त सुनील यादव के विरुद्ध 25 हजार का इनाम घोषित किया गया है। एसपी के अनुसार ये शराब सुल्तानपुर, रायबरेली, उन्नाव और फैजाबाद में सप्लाई की जा रही थी।

ये भी पढ़ें- शिवपाल यादव निकलेंगे राजा भैया के भी आगे, बसपा-भाजपा के भी उड़े होश, पीएम मोदी के बाद बनेगा यह सबसे बड़ा रिकॉर्ड

केमिकल और रंग से तैयार होती थी शराब-

वहीं पुलिस अभिरक्षा में मौजूद सुरेन्द्र नाम के अभियुक्त ने बताया कि हम ड्रम में पानी डालते थे। फिर पानी में केमिकल डालते और फिर कलर डालकर उसे मिला देते थे। प्रति दिन हम लोगों द्वारा करीब 80 पेटी माल तैयार किया जाता था। जिसे हम 11 लोग मिलकर तैयार करते थे।

Ad Block is Banned