शिक्षा की पाठ्शाला में पर्यावरण संरक्षता का नैतिक दायित्व: प्रदूषण मुक्त परिसर बनाने नौनिहालों ने लगाएं 550 पौधे

शिक्षा की पाठ्शाला में पर्यावरण संरक्षता का नैतिक दायित्व: प्रदूषण मुक्त परिसर बनाने नौनिहालों ने लगाएं 550 पौधे

By: shivmangal singh

Published: 23 Jul 2018, 08:36 PM IST

नौनिहालों ने पौधों की सुरक्षा का संकल्प लेकर निभाया पर्यावरण सरंक्षता की जिम्मेदारी
अनूपपुर। दिन-प्रतिदिन बिगड़ते पर्यावरणीय असंतुलनता तथा उसे बचाने पौधारोपण की दिशा में पत्रिका के हरयालो मध्यप्रदेश कार्यक्रम के तहत रविवार २२ जुलाई की सुबह जिला मुख्यालय स्थित शासकीय आवासीय एकलव्य स्कूल परिसर में अध्ययनरत लगभग २५० से अधिक छात्र-छात्राओं ने भी शिक्षकों के साथ शिक्षा के साथ साथ अब पर्यावरण बचाने की जिम्मेदारी की नैतिक दायित्व सम्भाली है। लगभग २५० छात्र-छात्राओं सहित शिक्षकों ने स्कूल परिसर को प्रदूषण से मुक्त बनाए रखने परिसर में ५५० पौधों का रोपण कर उन्हें सुरक्षित रखने का संकल्प लिया है। पिछले एक सप्ताह से परिसर को हरा-बनाने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग पदाधिकारी पीएन चतुर्वेदी सहित प्राचार्य अनिल कुमार गुप्ता, एएस सिंह, बीएन सिंह, गणेश राठौर, अजय प्रसाद, जयामती धुर्वे, माया साहू, अमित ङ्क्षसह, दीपक शर्मा, संतोष शुक्ला, पवन मिश्रा सहित देवेन्द्र पुरी गोस्वामी ने स्कूल परिसर, कन्या छात्रावास सहित अन्य स्थलों की सफाई कर पौधों की व्यवस्था की और रविवार २२ जुलाई को परिसर के भीतर लगभग ५५० पौधों का रोपण किया गया। जिसमें औषधियुक्त पौधों के साथ साथ फलदार पौधे शामिल रहे। अर्जुन औषधि के पौधे १२५, करंजी १२५, पपीता १२५, बहेरा ७५, मुनगा ५० तथा सीताफल ५० पौधों का रोपण किया। पत्रिका के हरयालो मध्यप्रदेश कार्यक्रम में शिक्षकों व बच्चोंंं ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। एसी अनूपपुर व शिक्षकों ने एक सुर में पत्रिका हरयालो मध्यप्रदेश कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा, भले ही शासकीय स्तर पर पौधारोपण कार्यक्रम चलाया जा रहा है। लेकिन पर्यावरण के प्रति पत्रिका की संवेदनशीलता में आरम्भ किए गए कार्यक्रम में शिक्षकों के साथ साथ स्कूल के छोटे-छोटे बच्चों ने भी पौधारोपण कर अपनी सहभागिता बनाने में सफलता पाई है। पत्रिका का यह कार्यक्रम सराहनीय है, इस कार्यक्रम से अधिक से अधिक लोग जुड़ेंगे तथा पर्यावरण को संतुलित बनाए रखने में अपने हाथों एक पौधा का रोपण कर वनों की घटती तादाद को बढ़ाने व धरा को हरा-भरा करने में मदद करेंगे। सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग पीएन चतुर्वेदी, प्राचार्य अनिल सिंह, एएन सिंह, बीएन सिंह तथा संतोष शुक्ला के नेतृत्व में आरम्भ किए गए पौधारोपण कार्यक्रम के तहत पत्रिका हरयालो मध्यप्रदेश के लिए शासकीय एकलव्य स्कूल परिसर अनूपपुर में ५०० पौधारोपण करने का लक्ष्य और निर्धारित किया है। जबकि एसी पीएन चतुर्वेदी ने जिले के अन्य आदिवासी स्कूली संस्थानों में पौधारोपण कराने के निर्देश दिए हैं। एसी पीएन चतुर्वेदी का कहना है कि स्कूलों के पास हरी-भरी हरियाली होने से बच्चों के साथ साथ शिक्षकों को शुद्ध वायु मिलेगी और स्वच्छ मन में बौद्धिक क्षमताओं का अधिक विकास होगा। शिक्षकों का कहना है कि पौधारोपण में बच्चों ने सुबह से ही पौधों को अपने नाम से गड्ढा खुदाई कर पौधारोपण करने का कार्य आरम्भ किया। अधिक पौधे होने के कारण सुबह से आरम्भ कार्यक्रम दोपहर को समाप्त हुआ।
बॉक्स: पत्रिका की पहल, शिक्षकों ने निभाई जिम्मेदारी
पत्रिका के हरयालो मध्यप्रदेश कार्यक्रम में प्राचार्य अनिल कुमार गुप्ता व शिक्षक संतोष शुक्ला का कहना है कि पत्रिका द्वारा जैसे ही पौधारोपण कराने की पहल करने की बात छेड़ी तो स्कूलों के शिक्षकों ने भी परिसर के पास गर्मी में बनने वाली गर्मी तथा वीरान हो रहे लम्बे-चौड़े परिसर को हरा-भरा करने अपनी सहमति दी। जिसके बाद शिक्षकों का कारवां ने जिला प्रशासन से बातचीत कर पौधों की व्यवस्था कराकर रविवार को पत्रिका हरयालों अभियान में धरती को हरा-भरा बना दिया। जहां नियमित पानी के साथ उसकी देखभाल की जाएगी। हालंाकि बाउंड्री बाल होने के कारण पौधो की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त व्यवस्था की जरूरत नहीं बताई गई है।

shivmangal singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned