धोखाधड़ी: ब्याज का कारोबार करने की सलाह देकर, पहले जमीन बिकवाई, फिर रुपए और जेवर भी ले गया

धोखाधड़ी: ब्याज का कारोबार करने की सलाह देकर, पहले जमीन बिकवाई, फिर रुपए और जेवर भी ले गया

Deepesh Tiwari | Updated: 11 Jul 2019, 12:07:13 PM (IST) Ashoknagar, Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

- पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
- रुपए और जेवर भी किए बरामद

अशोकनगर। शहर में एक अपरिचित ने एक व्यक्ति को ब्याज का कारोबार करने की सलाह देकर उसकी दो बीघा जमीन बिकवा दी। लेकिन जब जमीन बेचने का पैसा उसके घर आया तो वह अपरिचित उन रुपयों और घर में रखे जेबर लेकर फरार हो गया। हालांकि पुलिस ने उस अपरिचित व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है।

बुधवार को एडिशनल एसपी सुनीलकुमार शिवहरे ने चोरी के इस मामले का खुलासा किया। बताया कि शहर की जगदंबा कॉलोनी में रहने वाल रिजौदा निवासी पूरन पुत्र जगता अहिरवार ने शिकायत दर्ज कराई थी कि एक व्यक्ति घर पर आया और उसने अपना नाम सांची निवासी हरनामसिंह यादव बताया।

साथ ही बातों में उलझाकर ब्याज का कारोबार करने की बात कही, उसकी बातों में आकर पूरन ने 26 जून को 4.32 लाख रुपए में अपनी दो बीघा जमीन बेच दी। यह रुपए घर पर रखे हुए थे और हरनामसिंह भी घर पर रुका, जो 28 जून को वापस घर जाने की बात कहकर चला गया।

Jewelry

पूरन ने आरोप लगाया कि जब शाम को उसने अलमारी खोली तो उसमें रखे रुपए और जेवर गायब थे। रुपए और जेवर सहित 4.62 लाख रुपए की चोरी हो गई थी।

विदिशा जिले का है आरोपी बलराम
एएसपी ने बताया कि शिकायत मिलने पर एसपी ने पुलिस टीम ने तलाश शुरू की। साथ ही सायबर की भी मदद ली गई। आरोपी जब विदिशा जिले के लटेरी स्थित अपने घर पहुंचा तो पुलिस ने उसे पकड़ लिया, साथ ही उसके पास से 3.46 लाख रुपए नकद और जेबर बरामद किए है।

एएसपी ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी जो खुद को हरनामसिंह यादव बताकर फरियादी पूरन के घर आया था, उसका वास्तविक नाम बलराम अहिरवार है।

 

इधर, रात में हुई मारपीट : दोपहर में खून से लथपथ मिला कर्मचारी :
वहीं एक अन्य मामले में पुरानी रंजिश पर दो अलग-अलग पेट्रोल पंपों के दो कर्मचारियों के बीच रात के समय मारपीट हुई और दोपहर के समय कर्मचारी पेट्रोल पंप पर ही एक कमरे में खून से लथपथ बेसुध पड़ा मिला। अन्य कर्मचारियों ने उसे देखा तो हड़कंप मच गया।

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया है और पेट्रोल पंप के उस कमरे को सील कर दिया है। मामला शहर के गरिमा पेट्रोल पंप का है। जहां पर रात की ड्यूटी में काम करने वाला कर्मचारी विनोद पाराशर बुधवार दोपहर के समय पेट्रोल पंप के पीछे स्थित कमरे में खून से लथपथ मिला।

जिसके हाथ की नस कटी हुई थी और खून बह रहा था। दोपहर के समय जब दूसरा कर्मचारी चाय बनाने के लिए कमरे में गया तो कमरे में खून और कर्मचारी को बेहोश देकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने कर्मचारी विनोद पाराशर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।

विनोद का कहना है कि दूसरे पेट्रोल पंप पर काम करने वाले एक कर्मचारी ने सुबह चार बजे उसके साथ मारपीट की और उसे कमरे में पटक दिया, इससे वह बेहोश हो गया था और अस्पताल आने पर उसे होश आया। हालांकि पुलिस ने कमरे को सील कर दिया है और मामले की जांच कर रही है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned