प्रदेश की हाईटेक गौशाला का निरीक्षण कर बनाई जाएगी जिले में गौशाला

प्रदेश की हाईटेक गौशाला का निरीक्षण कर बनाई जाएगी जिले में गौशाला

Arvind jain | Publish: Oct, 14 2018 10:37:52 AM (IST) Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

300 गायों की क्षमता वाली गौशाला बनाने का शहरवासियों ने लिया निर्णय, कहा जनता के सहयोग से ही बनाएंगे।

अशोकनगर. शहर में दर-दर भटकती गायों की समस्या देख लोगों ने गौशाला निर्माण का निर्णय लिया है। इसके लिए एक समिति प्रदेश की सभी अच्छी गौशाला का निरीक्षण करेगी और ड्राईंग तैयार कराएगी। उसी के हिसाब से जिले में भी हाईटेक गौशाला का निर्माण कराया जाएगा।

इसके लिए रविवार को पांच सदस्यीय समिति राजगढ़ जिले में कथा वाचक नागरजी द्वारा बनवाई गई गौशाला को देखने के लिए जाएगी।
आवारा घूम रही गायों की व्यवस्था के लिए शनिवार गोकुल सेवा संस्थान ने शहर के व्हाईट हाउस में बैठक की।

 

संस्थान के संरक्षक जितेंद्र कोठारी के निर्देशन में हुई इस बैठक में समिति ने क्षेत्र के बड़ागांव में 300 गायों की क्षमता वाली हाईटेक गौशाला के निर्माण का निर्णय लिया। ताकि गायों को गौशाला में अच्छी व्यवस्थाएं की जा सके। लेकिन गौशाला किस तरह की बने, इसके लिए संस्थान ने पांच सदस्यीय टीम गठित की है।

यह टीम प्रदेश की सभी अच्छी गौशाला में पहुंचकर स्थिति जानेगी और यह भी देखेगी कि गौशाला में किस तरह से व्यवस्थाएं और नवाचार किए जा सकते हैं। पंसद की गौशाला की तरह ड्राईंग तैयार कराकर निर्माण कराएगी। इस बैठक में पूर्व विधायक लड्डूराम कोरी, सत्येंद्र कलावत, रविंद्र दुबे, योगेंद्र दुबे, रचना नायक, संतोष जायसवाल, मनोज शर्मा, महेंद्र भारद्वाजरे सहित कई सदस्य मौजूद रहे।

गौशाला से ही निकालेंगे गायों का खर्चा-
इस गौशाला में गायों से ही उनका खर्चा निकालने की व्यवस्था की जाएगी, ताकि गौशाला को आमदनी भी हो सके और उसी खर्च से गौशाला संचालित हो सके। इसके लिए गौशालाओं में आमदनी के स्रोतों की जानकारी एकत्रित की जाएगी।

वहीं गौमूत्र की व्यवस्था और खाद बनाने की योजना भी तैयार की जाएगी। ताकि कभी पैसों की कमी के चलते गौशाला की व्यवस्थाओं में कमी न आ सके। वहीं अन्य लोग इस गौशाला को देखकर प्रेरित हो सकें। समिति ने बताया कि इस निर्माण में सिर्फ जनता का ही सहयोग लिया जाएगा, शासन-प्रशासन से कोई मदद नहीं मांगी जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned