पाकिस्तान: कोयला खदान विस्फोट में नौ लोगों की मौत, मलबे में तीन मजदूरों के फंसे होने की आशंका

पाकिस्तान: कोयला खदान विस्फोट में नौ लोगों की मौत, मलबे में तीन मजदूरों के फंसे होने की आशंका

Siddharth Priyadarshi | Publish: Sep, 12 2018 04:56:22 PM (IST) एशिया

खदान के मलबे में तीन मजदूरों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है।

लाहौर। पाकिस्तान में एक कोयला खदान में विस्फोट होने से कम से कम 9 लोगों की मौत हो गई है। सीमावर्ती खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में कोयले की एक खदान में बुधवार दोपहर को मीथेन गैस की वजह से विस्फोट हो गया। पाकिस्तान से मिल रही खबरों के मुताबिक इस हादसे में कम से कम 9 श्रमिकों की मौत हो गई। इस हादसे में तीन लोग घायल हो गए हैं। खदान के मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। पुलिस ने बताया कि यह हादसा खैबर पख्तूनख्वा के कोहाट जिले के डेरा आदम खेल के अखोरवाल इलाके में हुआ।

पाकिस्तान :सिंधियों के उत्पीड़न के विरोध में आईं रेहम खान, कहा- अवैध किडनैपिंग बंद करे सरकार

नौ लोग मरे

पख्तूनख्वा पुलिस ने कहा है कि अब तक नौ मजदूरों के शवों को निकाल लिया गया है।जबकि अनुमान है कि कोयला खदान में अब भी कम से कम तीन मजदूर फंसे हुए हैं। फंसे सभी मजदूरों को बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। तीन खनिक जख्मी हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि हादसा खदान में चट्टान खिसकने से हुआ है। पुलिस ने बताया कि घटना के समय खदान में 15 मजदूर काम कर रहे थे।

रोहिंग्या मुद्दे पर मानवाधिकार संस्थाओं की ऑस्ट्रेलिया से मांग, 'म्यांमार संग सैन्य संबंध करें खत्म'
मीथेन गैस की वजह से हुआ हादसा

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक कोयलों से निकलने वाली मीथेन गैस के कारण खदान में विस्फोट हो गया। विस्फोट के बाद खदान का एक हिस्सा गिर गया। जिससे कम से कम 9 श्रमिक मलबे में दब गए। इन लोगों की मौत हो गई। इससे पहले 13 अगस्त को पाकिस्तान के दक्षिणपश्चिम बलूचिस्तान प्रांत में कोयला खदान विस्फोट में कम से कम सात मजदूरों की मौत हो गई थी और नौ अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बता दें कि पाकिस्तान में खनन क्षेत्र में बुनियादी सुविधाओं का अभाव है। पाकिस्तान में इन समस्यायों के चलते हर साल दर्जनों खनिकों की मौत हो जाती है।

Ad Block is Banned