कोराना वायरस के मामले बढ़ते देख इमरान खान ने बुलाई सेना, दो प्रांतों को किया लॉकडाउन

Highlights

  • सिंध प्रांत में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं।
  • यहां 15 दिनों के बंद की घोषणा की गई है।
  • पाकिस्तान में 800 से अधिक लोग संक्रमित पाए गए हैं।

Mohit Saxena

24 Mar 2020, 08:57 AM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रह है। यहां पर आखिरकार इमरान सरकार को सेना की मदद लेनी पड़ रही है। लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग को लागू करने करने के लिए सेना ने मोर्चा संभाल लिया है। पाकिस्तान में सबसे अधिक मामले पंजाब और सिंध में आए हैं। इन दोनों ही प्रांतों में लॉकडाउन को पूरी तरह से लागू कराने के लिए सेना को उतार दिया है। पाकिस्तान में 800 से अधिक लोग संक्रमित पाए गए हैं। वहीं अब तक छह लोगों की मौत हो चुकी है।

आंतरिक मंत्रालय अधिसूचना जारी की है जिसमें अब सेना उतराने की घोषणा की गई है। दरअसल, सभी प्रांतों और क्षेत्रों ने ऐसी मांग की थी जिसके बाद यह फैसला किया गया। सभी चार प्रांतों के अलावा इस्लामाबाद, पाक अधिकृत कश्मीर और गिलगित बाल्टीस्तान में सेना उतारी जा रही है। इस फैसले को संविधान के अनुच्छेद 245 और सीआरपीसी की धारा 131 (ए) के तहत लिया गया है।

पाकिस्तान में यह संक्रमण तेजी से फैल रहा है। आम हो या खास कोई भी इससे नहीं बचा। सिंध के मत्री सईद गनी भी इसकी चपेट में आ गए हैं। शिक्षा,श्रम व मानव संसधान ममंत्री गनी ने ट्विटर के जरिये खुद को कोरोना पॉजिटिव बताया है। वह सेल्फ आइसोलेशन में चले गए हैं। सिंध प्रांत में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं। यहां 15 दिनों के बंद की घोषणा की गई है।

98 प्रतिशत मरीजों के रिकवर होने की उम्मीद है

उधर, सूचना व प्रसारण मामले पर पीएम इमरान खान की विशेष सहायक डॉ.फिरदौस ऐसा दावा कर रही हैं कि कोरोना केस में 98 प्रतिशत मरीजों के रिकवर होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि मीडिया को यह खबर भी दिखानी चाहिए कि लोग इससे ठीक हो रहे हैं, ताकि लोगों में घबराहट और डर न फैले। गौरतलब है कि इससे पहले खुद इमरान खान ये दावा कर चुके हैं कि पाक में जिस प्रकार की गर्मी पड़ती है वैसे में कोरोना बेअसर हो जाएगा। हालांकि, उन्होंने यह भी माना कि अगर केस बढ़े तो हम इसे रोक पाने में सक्षम नहीं हैं।

coronavirus Coronavirus Outbreak
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned