पाकिस्तान: कराची में ऐतिहासिक इमारत को बचाने के लिए 2 हजार से ज्यादा दुकानें धवस्त

पाकिस्तान: कराची में ऐतिहासिक इमारत को बचाने के लिए 2 हजार से ज्यादा दुकानें धवस्त

Navyavesh Navrahi | Updated: 20 Nov 2018, 08:30:14 PM (IST) एशिया

बाजार में पिछले कुछ साल से कई अवैध दुकानें बननी शुरू हो गई थीं। बाद में ऐसा अन्य जगहों पर भी होने लगा।

कराची के कुछ ऐतिहासिक स्थलों को बचाए रखने के लिए लगभग 2200 से ज्यादा अवैध दुकानों को धवस्त कर दिया गया है। यह कार्रवाई कराची मेट्रोपोलिटन कार्पोरेशन (केएमसी) ने सुप्रीम कोर्ट की ओर से जारी निर्देशों पर की है। इसके लिए पिछले काफी समय से अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया जा रहा था। आरोप था कि केएमसी कई साल से हो रहे अवैध अतिक्रमण को नजरअंदाज कर रही है।

इसके तहत ज्यादा परिवर्तन ऐतिहासिक महत्त्व रखने वाले एम्प्रेस मार्केट में हुए हैं। इसका निर्माण ब्रिटिश शासन के दौरान महारानी विक्टोरिया की याद में 1884 में किया गया था।

कारोबारी हलचल वाली सद्दार पट्टी में स्थित यह मार्केट कभी कराची में व्यावसायिक और व्यापार कारोबार का मुख्य केंद्र रहा था। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार- बाजार में पिछले कुछ साल से कई अवैध दुकानें बननी शुरू हो गई थीं। यह गतिविधि बेरोक-टोक चलती रही और दूसरे पुराने इलाकों में भी फैल गई। यह भी कहा गया है कि शहर में जातीय विभाजन के कारण अधिकरियों ने भी कोई कदम नहीं उठाए।

हालांकि इस मामले में शीर्ष अदालत ने दखल दिया था। इस पर कराची के मेयर वसीम अख्तर ने कहा कि अवैध दुकानों को बिना किसी भेदभाव के गिरा दिया गया।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned