scriptWho Is Sirajuddin Haqqani First Time Taliban Release his photo | कौन है सिराजुद्दीन हक्कानी, तालीबान ने पहली बार दिखाया उसका चेहरा | Patrika News

कौन है सिराजुद्दीन हक्कानी, तालीबान ने पहली बार दिखाया उसका चेहरा

तालिबान का गृहमंत्री और 1 करोड़ डॉलर का इनामी आतंकी सिराजुद्दीन हक्‍कानी पहली बार दुनिया के सामने आया है। सिराजुद्दीन हक्‍कानी पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम करता है। यही नहीं वो आतंकी संगठन हक्‍कानी नेटवर्क का सरगना भी है।

नई दिल्ली

Updated: March 06, 2022 06:49:01 am

अफगानिस्‍तान में तालिबान के कब्‍जे के बाद पहली बार सिराजुद्दीन हक्‍कानी कैमरे के सामने आया है। पुलिस के एक कार्यक्रम में सिराजुद्दीन हक्‍कानी ने हिस्सा लिया। खास बात यह है कि इस दौरान उसने पाकिस्‍तानी राजदूत के अभिवादन करने पर उन्हें भाव तक नहीं दिया। बता दें कि हक्‍कानी पहले भी कई बार सार्वजनिक कार्यक्रमों में शामिल होता रहा है लेकिन अब तक उसकी तस्‍वीर सामने नहीं आई थी।
Who Is Sirajuddin Haqqani First Time Taliban Release his photo
Who Is Sirajuddin Haqqani First Time Taliban Release his photo

पहली बार एक साथ सामने आई फोटो और वीडियो

ऐसा पहली बार है जब सिराजुद्दीन हक्‍कानी का फोटो और वीडियो एक साथ सामने आया है। कार्यक्रम के दौरान पाकिस्‍तान के अफगानिस्‍तान में राजदूत ने उनका अभिवादन किया, लेकिन मगरूर हक्‍कानी ने उन्हें नजरअंदाज कर दिया।

यह भी पढ़ें

आईएसआई प्रमुख पद से हटाए गए फ़ैज़ हामिद, बनाए जा सकते हैं पाकिस्तानी सेना के नए चीफ!



दरअसल मीडिया खबरों की मानें तो इन दिनों पाकिस्तान और तालिबान के बीच रिश्ते कुछ ठीक नहीं चल रहे हैं। बिगड़ते रिश्तों की वजह का ही असर हक्कानी के रुख में देखने को मिला है।


अफगानिस्तान के इस्लामिक अमीरात के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद द्वारा ट्वीट की गई तस्वीर, दशकों में मायावी नेता की पहली छवि है जहां उनका चेहरा स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है।

तस्वीर को शनिवार को इस संदेश के साथ ट्वीट किया गया था: "इस्लामिक अमीरात के मंत्री, खलीफा साहिब सिराजुद्दीन हक्कानी हाफिजुल्ला ने राष्ट्रीय पुलिस के स्नातक समारोह का उद्घाटन किया।"

अमरीका के डेढ दशक से ज्यादा वक्त तक हक्कानी का पीछा किया। बावजूद इसके अमरीका के पास हक्कानी का एक साइड फोटो ही है। इस फोटो में हक्कानी का चेहरा एक शॉल में आधा ढका हुआ है।

वहीं भारत के पास भी हक्कानी की कोई तस्वीर नहीं है। भारत हक्कानी पर अफगानिस्तान स्थित अपने दूतावास में भारत की संपत्ति पर कई हमलों का आोरप लगाया था।
517.jpeg
तालिबान लगातार पहचान छिपाता रहा
खास बात यह है कि सितंबर 2021 में हक्कानी के सरकार का हिस्सा बनने के बाद भी, तालिबान ने उसे जारी की गई किसी भी प्रचार सामग्री से दूर रखने का हर संभव प्रयास किया।

पिछले साल अक्टूबर में काबुल के इंटरकांटिनेंटल होटल में तालिबान की बैठक के बाद सामने आई तस्वीरों की एक श्रृंखला में हक्कानी का चेहरा या तो गुलदस्ते से छिपा हुआ था या जानबूझकर धुंधला किया गया था।

यह भी पढ़ें

कंधार से काबुल पहुंचा बरादर, इस बार अपनी सुरक्षा के लिए लाया खुद की फौज

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Bharatpur Road Accident: भीषण सड़क हादसे में 5 लोगों की मौत, मचा हाहाकारLPG Price Hike Today: घरेलू गैस की कीमत 3.50 रुपए बढ़े, कमर्शियल सिलेंडर पर 8 रुपए का इजाफापोर्नोग्राफी मामले में व्यवसायी राज कुंद्रा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का भी मामला दर्जज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का पहला बयान, केंद्रीय मंत्री भी बोलेज्ञानवापी मामले को लेकर अखिलेश यादव ने हिंदू देवी-देवताओं पर की विवादित टिप्पणीअमरीकी शेयर बाजार धड़ाम, मंदी की आशंका के बीच दो साल की सबसे बड़ी गिरावटअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस काउंटडाउन कार्यक्रम में शामिल हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंहदुनिया की आखिरी रॉल्स रॉयस यूपी में, कंपनी ने लेने के लिए दिया ऑफर, 500 करोड़ विरासत के मालिक...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.