टर्बो इंजन कार चलाते हैं तो इन बातों का हमेशा रखें ध्यान, नहीं तो होगा नुकसान

  • टर्बो चार्ज्ड इंजन, सामान्य इंजन से होता है अलग
  • कुछ बातों का रखना पड़ता है ध्यान
  • काफी महंगा होता है टर्बो चार्ज्ड इंजन

By: Pragati Bajpai

Published: 29 Mar 2019, 04:51 PM IST

नई दिल्ली: आजकल कारों में टर्बोचार्जर डीजल इंजन लगाए जा रहे हैं। दरअसल लगातार बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए सरकार प्रदूषण उत्सर्जन नियमों को सख्त कर रही है। यही वजह है कि कार कंपनियां नई कारों में टर्बोचार्जर पेट्रोल इंजन लगा रही हैं। टर्बोचार्जर इंजनों से ज्यादा पावर आउटपुट मिलता है। वहीं ध्यान देने वाली बात ये है कि टर्बोचार्ज्ड कारें ज्यादा मेंटीनेंस मांगती हैं।

जानिए कितनी पॉवरफुल है Mahindra XUV300, पढ़ें क्या है खास

  • सबसे पहले आप जान लें कि टर्बोचार्जर का काम होता है कि यह कंप्रेस्ड हवा को इंजन के चैंबर तक पहुंचाता है। जिससे इंजन का टार्क बढ़ता है और परफॉरमेंस के दौरान उसे ज्यादा हवा मिलती है। टर्बोचार्जर बेहद महंगे होते हैं। इसीलिए अगर इनकी देखभाल ठीक से न की जाए तो ये खराब हो सकते हैं और आपकी जेब पर भारी पड़ सकता है।
  • गाड़ी स्टार्ट करने के तुरंत बाद कभी भी पिकअप न दें। थोड़ी देर तक इंतजार करें, ताकि निश्चित टेंपरेचर पर इंजन ऑयल इंजन चैंबर तक पहुंच जाए।
  • गाड़ी में टर्बो लगा है, तो गंदा या मिलावटी तेल इंजन को खराब कर सकता है। मिलावटी तेल ठीक से नहीं जलेगा, जिससे इंजन में आवाज आएगी और टर्बो को काम करने में समस्या पैदा होगी।
  • अचानक फुल थ्रोटल पर गाड़ी न चलाएं। थ्रोटल देने से टर्बों का नुकसान पहुंच सकता है। इससे कई बार कार नियंत्रण से बाहर भी हो सकती है। इसलिए धीरे-धीरे थ्रोटल दें।
  • इंजन ऑयल्स को ठीक से काम करने क लिए न्यूनतन तापमान की जरूरत होती है।
  • गाड़ी को कभी भी कम रफ्तार और ऊंचे गियर पर न चलाएं। इससे इंजन की परफॉरमेंस पर फर्क पड़ता है। नार्मली कम आरपीएम पर इंजन ज्यादा माइलेज देता है। लेकिन टर्बोचार्जर इंजनों के साथ ऐसा नहीं है।महिन्द्रा की धाकड़ Marazzo और scorpio के लिए चुकानी होगी ज्यादा कीमत, अप्रैल से लागू होगी नई कीमत
  • टर्बोचार्जर कंप्रेस्ड हवा पर काम करता है, जिससे बहुत तेजी से इंजन ऑयल जलता है और उसकी परफॉरमेंस कम होती है। वहीं अगर आप टर्बो के इस्तेमाल के दौरान इंजन बंद कर दें, तो गर्म हवा चार्जर के अंदर ही रह जाती है, जो धीरे-धीरे टर्बो की क्षमता को घटा देती है। इंजन को बंद करने से पहले उसे आइडियल पोजिशन में लेकर आएं।
  • नए अंदाज में सामने आईBajaj की ये पापुलर बाइक, जानें इस बार क्या है नया
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned