राम मंदिर अपडेट : फाउंडेशन के लिए 4 मशीने हटा रहे मलबे, 2 माह में होंगे साफ : ट्रस्ट

राम जन्मभूमि परिसर की विशेष सुरक्षा कवच के बीच होगा मंदिर का निर्माण, सुरक्षा अधिकारियों के बीच हुई समन्वय में बैठक

By: Satya Prakash

Published: 21 Jan 2021, 08:27 PM IST

अयोध्या : राम मंदिर निर्माण के लिए नींव बनाये जाने की प्रक्रिया के साथ परिसर की सुरक्षा की नया खाका तैयार किया जाएगा जिसको लेकर आज निर्माण समिति व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समन्वय बैठक किया गया जिसमें सुरक्षा अधिकारियों ने अयोध्या आने वाले श्रद्धालुओं के द्वारा श्री रामलला के दर्शन के बीच मंदिर निर्माण की प्रक्रिया बाधित न हो सके।

श्री राम जन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण के लिए नींव बनाए जाने को लेकर खुदाई का कार्य शुरू कर दिया गया है। ट्रस्ट के मुताबिक खुदाई प्रक्रिया 2 माह तक चलेगा। जिसके लिए चार मशीनें लगाई गई हैं और आवश्यकतानुसार अभी बढ़ाया जा सकता है। जिसके बाद इंजीनियरों द्वारा रिसर्च के आधार पर तैयार होने वाले मैंटेरियल के बीच पत्थरों से नींव भराई का कार्य प्रारंभ किया जाएगा। लेकिन इसके पहले राम जन्मभूमि परिसर में श्रद्धालुओं के द्वारा भगवान श्री राम के दर्शन को बिना बाधित किए जाने के बीच निर्माण कार्य की प्रक्रिया चल सके इसके लिए सुरक्षा के कई अन्य मानक भी तैयार किए जा रहे हैं। जिसको लेकर आज दो सत्रों बैठक के पहले सत्र में श्री राम जन्मभूमि परिसर मेंं अधिकारियों के साथ निरीक्षण कर स्थलीय जायजा लिया गया तो वही दूसरे चरण में हुई बैठक के दौरान निर्माण समिति व जिला प्रशासन के संबंध में बैठक में मंदिर निर्माण के साथ परिसर की सुरक्षा पर चर्चा हुई।इस बैठक में मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्षष गोविंद देव गिरी, सदस्य डॉ अनिल मिश्रा केेेे साथ जिलाधिकारी अनुज झा, मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल, डीआईजी एसएसपी दीपक कुमार वाह सीडीओ प्रथमेश कुमार भी मौजूद रहे।


वही राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव चंपत राय ने परिसर के निरीक्षण को लेकर बताया कि परिसर में नींव के पूर्व मलबा हटाये जाने का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। और लंबे समय से भूमि के नीचे टेस्टिंग किया जा रहा था। जिसमे यह बड़ी मात्रा में मलबा होने की बात सामने आई है। जिस पर नींव नही बन सकता है। यह मलबा दूर दूर तक है। इसलिये इस मलबे को हटाए जाने का कार्य किया जा रहा है। जब यह भराव समाप्त हो जाएगा उसके बाद आगे प्रक्रिया शुरू की जायेगा। 4 मशीनों के द्वारा हटाई जा रही है। आगे और मशीनों की आवश्यकता होगी तो लगाई जाएगी वही बताया कि आज निरीक्षण के दौरान एक-एक बारीकी पर चिंतन किया गया है कि कितना मलवा निकल सकता है। जिसके बाद आवश्यकता के अनुसार आनन-फानन में कारीगरों को बुला लिया जाएगा।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य डॉ अनिल मिश्रा ने बताया कि मंदिर निर्माण से पहले श्री राम जन्म भूमि परिसर की सुरक्षा का नया खाका तैयार किया गया है जिसको लेकर आज समिति की बैठक के दौरान चर्चा की गई है। जिसमें सुरक्षा अधिकारियों के साथ किस प्रकार से ट्रस्ट का सहयोग चाहता है इन सभी विषयों पर विस्तृत रूप से चर्चा किया गया है। वहीं टीसीई व एलएंडटी ने जो अभी तक कार्य किये हैं। के आधार पर नींव की खुदाई इतनी गहराई तक होनी है इसका रिपोर्ट दे दिया गया है। के आधार पर खुदाई प्रारंभ हो गई है उसके बाद नींव की भराई के लिए कौन-कौन से मैटेरियल का उपयोग किया जाना है। इस पर रिसर्च किया जा रहा है 15 दिनों में रिपोर्ट इंजीनियरों द्वारा देने वाले हैं। इस दौरान लगभग 60 से 70 दिनों तक खुदाई का कार्य किया जाएगा जिसके बाद दिए गए रिपोर्ट के आधार पर भाई का कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा अभी हमारे पास पर्याप्त समय है। वही बताया कि अगले 60 दिनों के अंदर इसके आगे का कार्य भी प्रारंभ कर दिया जाएगा जिसमें एलएन्डटी के द्वारा पत्थरों की खरीद उसकी टेस्टिंग दोनों कार्य समानांतर चलेगा।

Show More
Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned