पुलिस की लापरवाही में दरिंदगी की शिकार हुई युवती ने की आत्म हत्या

युवती के परिजनों का पुलिस पर आरोप पहले ही होती कार्यवाही तो नही जाती जान

अयोध्या : दिल्ली में हुए निर्भया कांड के दोषियों को तो सजा नहीं मिल पाई लेकिन आज भी मासूम दरिंदगी का शिकार बनती जा रही हैं जिस पर पुलिस लगाम लगाने पर नाकाम है। राम नगरी अयोध्या में रहने वाली 16 वर्षीय युवती के साथ रेप की घटना के बाद वीडियो भी वायरल किया गया लेकिन पुलिस की लापरवाही को देख युवती को अपनी जान गवानी पड़ी।

अयोध्या कोतवाली क्षेत्र के बाग बघेश्वर में रहने वाली युवती के साथ पड़ोस में ही रहने वाले चार युवकों ने चाकू दिखाकर बलात्कार। किया था। और वीडियो बनाकर वायरल कर दिया था। जिसमें पीड़िता के पिता ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के यहां प्रार्थना पत्र दिया था। पीड़िता के पिता के द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र पर कार्यवाही नहीं हुई। उधर गांव में वीडियो वायरल होने के बाद युवती बदनामी के डर से परेशान परेशान थी। और कल देर शाम इस घटना से आहत और बदनामी के डर से परेशान युवती ने मालगाड़ी के सामने छलांग लगा दी जहां इलाज के दौरान उसकी श्री राम अस्पताल में मौत हो गई।

मृतका की मां की का आरोप है कि घर से सामान लेने निकली किशोरी को आरोपी युवक ने बात करने के बहाने से बुलाया उसके बाद चाकू दिखाकर उसके साथ बलात्कार किया।आरोपी युवक के साथ मौजूद तीन अन्य युवकों ने इस घटना का वीडियो बनाया और वीडियो वायरल कर दिया। इस घटना के बाद बदनामी के डर से उक्त नाबालिग किशोरी ने आत्महत्या कर लिया। मृतक नाबालिग किशोरी की मां के अनुसार इस संदर्भ में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र भी हमने डाला था लेकिन उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। मृतका की मां ने घटना में शामिल आरोपियों के फांसी की मांग की है।

वहीं मृतक के पिता राम मिलान का कहना है कि यह घटना 2 फरवरी की है। मुझे 3 दिन पूर्व पता लगा था। इस संदर्भ में प्रार्थना पत्र वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को दिया था। हादसे की सूचना मुझे मिली तो मैं काम पर था। उसके बाद मैंने कोतवाली अयोध्या को सूचना दी। मृतका के पिता ने आरोप लगाया कि आरोपी युवक इस घटना के बाद से ही वीडियो वायरल करने की धमकी मृतका को दे रहे थे। मृतका के पिता ने इंसाफ की मांग की है। आरोपियों को ने घटना को मणि पर्वत जैसी पवित्र स्थली की पर ही अंजाम दिया।

वहीं इस घटना से आक्रोशित पड़ोसी का कहना है गांव की ही नाबालिक 14 वर्षीय बच्ची को बरगला फुसलाकर कुछ युवकों ने उसके साथ बलात्कार किया और उसका वीडियो वायरल कर दिया। इस घटना के संदर्भ में क्षेत्राधिकारी ने आश्वासन दिया था कि हम उन लोगों की गिरफ्तारी करवा रहे हैं। इस घटना से पूर्व में ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के यहां प्रार्थना पत्र दिया गया था। जिसका कोतवाली अयोध्या ने संज्ञान नहीं लिया और यह कहते रहे कि अभी हमें कोई प्रार्थना पत्र नहीं मिला है।

वहीं इस घटना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशीष तिवारी ने कहा की कल रात 9 बजे बाद बाग़ बघेश्वर निवासी एक व्यक्ति के द्वारा तहरीर दी गई कि उनकी बेटी ने आत्महत्या कर ली है। मृतिका के साथ 2 फरवरी को। बलात्कार हुआ था और आरोपी युवक के साथ मौजूद युवकों ने इसका वीडियो बनाया और वीडियो को वायरल कर दिया। इस संदर्भ में एक लाख रुपए की मांग भी आरोपी युवकों द्वारा की जा रही थी। इस घटना से परेशान युवती ने अयोध्या रेलवे स्टेशन जाकर के ट्रेन के सामने आत्महत्या कर ली है। इस संदर्भ में अभियोग पंजीकृत कर गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। उनके मुताबिक पहली बार ही कल घटना के बाद रात 9:00 बजे मृतका के पिता ने इसकी सूचना कोतवाली अयोध्या को दी।

जबकि पिता का कहना है कि वह पिछले 3 दिन पूर्व ही इस घटना की शिकायत स्वयं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के कर चुके थे। जिस पर प्रशासन ने लापरवाही करते हुए कोई कार्रवाई नहीं की पुलिस अपनी नाकामी छुपा रही है। जबकि परिजनों का साफ कहना है कि घटना के बाद इसकी सूचना वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को दी गई थी। अगर प्रशासन ने कोई ठोस कार्रवाई की होती तो घटना को अंजाम देने वाले मनबढ़ आरोपी जेल की सलाखों के पीछे होते। और शायद एक मासूम की जान बच जाती ।

Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned