संजय सिंह का सीएम योगी पर बड़ा हमला, कहा श्मशान में दलाली खाने वालों को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं

आप सांसद का सरकार पर बड़ा हमला, कहा विरोधियों पर स्याही फेकवा अपनी काली करतूस पर पर्दा डाल रहे सीएम योगी

यूपी में न्याय मांगने वालों को लाठी, मुकदमें और मिलता है जेल

यूएन जैसी संस्थाएं आज हालाता की कर रही है आलोचना

आजमगढ़. आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने मंगलवार को प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अराजकता के हालात है। यहां जो न्याय मांगता है उसे लाठी, मुकदमेें और जेल मिलता है। प्रदेश के मुख्यमंत्री काली स्याही फेकवा कर अपनी काली करतूत नहीं छुपा सकते है। उत्तर प्रदेश जंगल राज नहीं बल्कि बहशी राज हो गया है। यहां कोई सुरक्षित नहीं है। हालत यह है कि यूएन जैसी संस्थाएं आज हमारी आलोचना कर रही है।

मऊ से लखनऊ जाते समय आजमगढ़ जिले के सिधारी में पार्टी के जिला संयोजक राजेश यादव के आवास पर मीडिया केस बात करते हुए संजय सिंह ने कहा कि पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में बेटियों के साथ दरिंदगी के मामले सामने आये है। इन जिलों में हुए कांड ने यह साबित कर दिया है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के राज में बेटिया सुरक्षित नहीं हैं। बेटियों के लिए उत्तर प्रदेश कब्रगाह बन गया है। अगर आप न्याय के लिए आवाज उठाते है तो आपको लाठियां, मुकदमें, जेल और हमले कराये जाते हैं। हाथरस कांड में न्याय दिलाने के लिए जितने भी विपक्ष के नेता वहां गये उसमें से किसी पर लाठी चलायी गयी, तो किसी को धक्का मरवाया गया यानि एक दहशत का माहौल बनाया गया।

उन्होने कहा कि वे सोमवार को हाथरस गये थे। उन्हे लगा ही नहीं कि यह भी कोई भारत का हिस्सा है। पुलिस ने बैरिकेट पर वाहनों को रोका अपनी सुरक्षा में लिया। सांसद संजय सिंह ने आरोप लगाया कि अपनी सुरक्षा में लेकर उनके साथ विश्वासघात किया गया और उनपर हमला कराया गया। मुख्यमंत्री के दर्जनभर मुकदमें, पार्टी कार्यालय बंद कराने से नहीं डरा तो हमला करा दिया। उन्होने कहा कि काली स्याही फेंकवाकर जो काली करतूते छिपाने का काम किया है उसमें मुख्यमंत्री सफल नहीं होगें।

उन्होने कहा कि सरकार की नियत ठीक नहीं है इसलिए वे इस मामले को आगे भी लगातार उठाते रहेंगे। उन्होने आरोप लगाया कि प्रदेश में 39 स्थानों पर प्रशासन और पुलिस में उपर से नीचे तक एक जाति विशेष के लोग बैठे है। ब्राम्हणों की हत्या के बारे में भी हमने कोई हवा-हवाई बाते नहीं कही है। आंकड़े खुद सच बयां कर रहे हैं।


सांसद ने कहा कि ये वही लोग है जो बेटी बचाओं का नारा, एंटी रोमियों स्क्वायड बनाने की बात करते थे। ये लोग नारा देते थे ना गुंडा राज ना भ्रष्ट्राचार लेकिन आज प्रदेश में गुंडो का राज स्थापित हो गया है। उत्तर प्रदेश को जंगलराज कहना ठीक नहीं होगा बल्कि ये प्रदेश बहशी राज के रूप में तब्दील हो गया है । आज उत्तर प्रदेश के बारे में यूएन जैसी संस्था हमारी आलोचना कर रही है। यही नहीं प्रदेश में कोरोना महामारी के दौरान भी 75 जिलों में भारी भ्रष्ट्राचार हुआ। जिस सरकार ने शमशान में दलाली खाने का काम किया हो उस सरकार को सत्ता में रहने का हक नहीं है।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned