अखिलेश यादव का पीएम मोदी पर बड़ा हमला, कहा ‘ये चुनाव चाय वाले बनाम दूध वाले का है’

अखिलेश यादव का पीएम मोदी पर बड़ा हमला, कहा ‘ये चुनाव चाय वाले बनाम दूध वाले का है’

Mohd Rafatuddin Faridi | Publish: Apr, 18 2019 05:22:03 PM (IST) | Updated: Apr, 18 2019 05:25:49 PM (IST) Azamgarh, Azamgarh, Uttar Pradesh, India

  • कहा जब तक दूध अच्छा नहीं होगा चाय अच्छी नहीं बन सकती।
  • आजमगढ़ लोकसभा सीट पर नामांकन करने के बाद अखिलेश ने जनसभा को संबोधित किया।
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र को चौकीदार और सीएम योगी आदित्यनाथ को बताया ठोकीदार।
  • आजमगढ़ से बताया अपना दिल का रिश्ता, कहा दूसरों के बहकावे में मत आना।

आजमगढ़. अखिलेश यादव ने गुरुवार को आजमगढ़ लोकसभा सीट से अपना नामांकन कर दिया। उन्होंने कहा कि वह नामांकन करने बसपा सुप्रीमो मायावती और पिता मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद लेकर आए हैं। उन के नामांकन में मायावती के दूत बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चन्द्र मिश्रा भी प्रस्तावक बने। अखिलेश यादव के नामांकन के जरिये आजमगढ़ में समाजवादी पार्टी ने अपनी ताकत दिखायी। पूर्वांचल के कई जिलों से सपा कार्यकर्ता और समर्थक आजमगढ़ पहुचे।

नामांकन के बाद अखिलेश ने वहां एक जनसभा को भी संबोधित किया। इस दौरान वहां भी चौकीदार चोर है कि नारे लगे, जिस पर अखिलेश ने चुटकी भी ली। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर सीधा हमला करते हुए कहा कि ये चुनाव चाय वाले और दूध वाले के बीच का है। जब तक दूध अच्छा नहीं होगा चाय अच्छी नहीं बनेगी। उन्होंने खुद को दूध वाला बताते हुए यादव बाहुल्य सीट पर यादव वोटरों को साधने की कोशिश की। बीच-बीच में वह मायावती की तारीफ भी करते रहे।

अपने पूरे भाषण के दौरान अखिलेश ने पीएम नरेन्द्र मोदी को ही निशाने पर रखा। कहा कि जो चाय वाला बनकर आया उसकी चाय खराब निकली, क्योंकि जब तक दूध अच्छा नहीं मिलेगा चाय अच्छी नहीं बनेगी। तंज करते हुए कहा कि ये काली चाय पीने वाले लोग हैं।

 

Akhilesh Yadav Nomination
अखिलेश यादव के नामांकन में प्रस्तावक बने बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र IMAGE CREDIT:

 

देश को मिलेगा नया प्रधानमंत्री

बीजेपी के नया देश बनाने के प्रचार पर तंज करते हुए बोले कि नया देश तो तब बनेगा जब नया प्रधानमंत्री बनेगा। इसलिये ये चुनाव नया प्रधानमंत्री बनाने का है। लोगों को नोटबंदी और बीजेपी के अच्छे दिन के वादे की याद दिलाते हुए कहा कि हम लोगों को ऐसे अच्छे दिन के सपने दिखाए गए जो कभी पूरे नहीं हो सकते थे। दो करोड़ नौकरियों का वादा याद दिलाते हुए मोदी सरकार पर हमला किया। कहा कि नौकरी दी नहीं और रोजगार में चोरी हो गयी। किसानों की न तो आय दो गुनी हुई ओर न ही उनहें लागत का डेढ़गुना मूल्य मिला, बल्कि उनकी यूरिया की बोरियों में से पांच किलो खाद चोरी हो गयी।

नोटबंदी का जिक्र करते हुए कहा कि काला धन और भ्रष्टाचार खत्म करने का दावा किया, लेकिन ये जवाब आज तक नहीं दिया कि कितना काला धन आया। बल्कि हमसे जो रुपये बैंक में जमा करवाए गए उसे भी बड़े-बड़े पूंजीपति निकालकर ले गए। ऐसे लोग सिर्फ चार-पांच नहीं बल्कि 36 हजार से ज्यादा उद्योगपति पैसा लेकर देश छोड़ गए।

 

Akhilesh Yadav Nomination
अखिलेश यादव ने सपा के टिकट पर आजमगढ़ से हैं प्रत्याशी IMAGE CREDIT:

 

आजमगढ़ से मेरा दिल का रिश्ता

शिक्षाम्रितों को साधते हुए वादा किया कि सरकार आयी तो फिर वही सम्मान देंगे। केन्द्र में सरकार बनने पर केन्द्रीय पुलिस बलों में भी सीधे मेरिट पर भर्ती का वादा किया। गांव के चौकीदारों की समस्या का समाधान करने और पुरानी पेंशन बहाली का वादा भी किया। कहा कि भाजपा के लोग प्रचारित कर रहे हैं कि मुझसे नहीं मिल पाओगे, लेकिन मैं बता दूं कि ये दिल का रिश्ता है।

प्रधानमंत्री के सपा-बसपा गठबंधन को महामिलावट कहने का जवाब देते हुए कहा कि अगर ये महामिलावट है तो जो बीजेपी ने 38 दलों से गठबंधन किया है वो क्या है। ये चुनाव संविधान और देश बचाने का है। जेट एयरवेज प्रकरण का जिक्र करते हुए तंज कसा। अखिलेश ने कहा कि चप्पल पहनने वालों को हवाई जहाज में बैठने का सपना दिखाया गया था, लेकिन हवाई जहाज उड़ाने वाली कंपनी जहाज छोड़कर जा रही है।

 

Akhilesh Yadav Nomination
आजमगढ़ में नॉमिनेशन करने के बाद अखिलेश यादव ने जनसभा को संबोधित किया IMAGE CREDIT:

 

चौकीदार और ठोकीदार को हटाने का चुनाव

अखिलेश ने भीड़ को इमोशनल करने की कोशिश भी की। याद दिलाया कि किस तरह से मुख्यमंत्री बनने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने सीएम आवास को गंगाजल से धुलवाया था। इशारों-इशारों में उन्होंने इसे अपना अपमान बताने की कोशिश की। कहा कि अधिकारियों के जरिये प्रेस वालों को बुलाकर मुझे बदनाम किया कि घर की टोंटी लेकर चले गए। नरेन्द्र मोदी की तर्ज पर योगी आदित्यनाथ को ठोकीदार बताते हुए कहा कि जब ये जाएंगे तो अधिकारियों को वैसे ही भेजा जाएगा और हम तब तक नहीं मानेंगे जब तक वो चिलम ढूंढकर नहीं लाएंगे। ये मामला टोंटी और चिलम के बीच का है। कहा कि ये मुख्यमंत्री कहते हैं कि ठोक दो। चुनाव चौकीदार और ठोकीदार को हटाने का भी है।

 

 

बाबा मुख्यमंत्री ने छीन ली केशव प्रसाद मौर्य की कुर्सी

कुशवाहा वोटरों को साधने की कोशिश करते हुए कहा कि हमारे सलेमपुर के गठबंधन प्रत्याशी आरएस कुशवाहा असली कुशवाहा हैं। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को फारवर्ड कुशवाहा कहते हुए बताया कि वो कुर्सी पर नहीं बैठ पाए, उनकी कुर्सी बाबा मुख्यमंत्री ने छीन ली। संत कबीर नगर के जूताकांड का जिक्र किया। कहा कि सीएम योगी कहते हैं ठोक दो और बीजेपी सांसद जी ने विधायक को ठोक दिया। 12 जूते मारे, पर अगर रोका न गया होता तो पूरे 21 जूतों की सलामी देते।

 

बीजेपी ने शौचालय बनाए लेकिन पानी नहीं दिया

अखिलेश ने कहा कि बीजेपी वालों का भाषण शौचालय से शुरू होकर शौचालय पर ही शुरू होता है। शौचालय कांग्रेस राज में दो गड्ढे के और बीजेपी में एक गड्ढे के शौचालय बने, लेकिन पानी किसी ने नहीं दिया। हमने देश की सबसे अच्छी सड़कें और एक्सप्रेस वे बनाया, उस पर लड़ाकू विमान उतारे। सड़क और मंडियां बनाना चाहते थे, लेकिन इस सरकार ने काम रोक दिया है। फिर जब सरकार बनेगी तो ये एक्सप्रेसवे बलिया तक भी जाएगा। बाढ़ रोकने का प्रबंधन किया, चीनी मिल लगाई, मेडिकल कॉलेज बनवाया।

 

 

कहा मुझे मुलायम से कम वोटों से जिताना

आखिर में अखिलेश ने जनता से उन्हें जिताने का अहृवान करते हुए कहा कि मुझे मैनपुरी में मुलायम सिंह यादव की जीत से थोड़े कम वोटों से जिताना। इसके साथ ही उन्होंने पड़ोस की सीटों पर लालगंज से संगीता आजाद, घोसी से अतुल राय, गाजीपुर से अफजाल अंसारी, सलेमपुर से आरएस कुशवाहा। गोरखपुर से रामभुआल निषाद वगैरह प्रत्याशियों को जिताने का आह्वान भी किया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned