पुलिस की पिटाई से वार्ड बॉय सहित आठ लोग घायल, बढ़ा विवाद

एफआईआर न होने से नाराज कर्मचारियों ने की तालाबंदी

By: Ashish Shukla

Published: 01 Jul 2019, 10:59 PM IST

आजमगढ़. तहबरपुर थाना क्षेत्र में दो पक्षों में हुई मारपीट की घटना ने बड़े विवाद का रूप ले लिया है। इसी विवाद में घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाने को लेकर पुलिस और एंबुलेंस कर्मी आपस में भिड़ गए। इस घटना में वार्ड बॉय समेत कुल 8 कर्मचारी घायल हो गए हैं। घटना से नाराज कर्मचारियों ने सोमवार को अस्पताल में ताला बंद कर प्रदर्शन किया। कार्रवाई न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी।

तहबरपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में रविवार रात दो पक्षों के बीच मारपीट हो गई थी। पुलिस की सूचना पर पहुंचे 108 एंबुलेंस कर्मियों ने घायल को सदर अस्पताल पहुंचा दिया। थोड़ी देर बाद दूसरे पक्ष ने भी सीएचसी तहबरपुर से एंबुलेंस बुलवाया। इस दौरान एंबुलेंस कर्मचारी खाना खा रहे थे।
देर होने पर डायल 100 के पुलिसकर्मी सीएचसी तहबरपुर पहुंच गए। इसके बाद पुलिस एंबुलेंस कर्मचारियों से भिड़ गई। आरोप है कि कहासुनी के बाद उन्होंने एंबुलेंस कर्मचारियों की पिटाई कर दी। इसमें एक वार्ड बॉय समेत कुल 8 कर्मचारी घायल हो गए। रात को ही एंबुलेंस कर्मचारियों ने सदर अस्पताल में आ कर अपना इलाज कराया।

इसके बाद कर्मचारी थाना तहबरपुर एफआईआर कराने के लिए पहुंचे, लेकिन पुलिस ने सुबह आने को कह कर वापस लौटा दिया। सोमवार सुबह एंबुलेंस कर्मचारियों ने अस्पताल कर्मियों के साथ मिलकर अस्पताल परिसर में तालाबंदी कर दी। साथ ही कार्य बहिष्कार का एलान कर दिया। एंबुलेंस कर्मचारी आरोपी पुलिस पर एफआईआर दर्ज कराने की मांग कर रहे है। मौके पर सीओ के नेतृत्व में पुलिस फोर्स मौजूद है और कर्मचारियों के साथ समझौते का प्रयास किया जा रहा था।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned