आयुक्त सख्त, ग्रीनलैंड में बने आवास होंगे सील

आयुक्त सख्त, ग्रीनलैंड में बने आवास होंगे सील
House

Devesh Singh | Publish: Jul, 20 2019 08:11:51 PM (IST) Azamgarh, Azamgarh, Uttar Pradesh, India

मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने शनिवार को आज़मगढ़ विकास प्राधिकरण के कार्यों की समीक्षा की।

रिपोर्ट:-रणविजय सिंह

आज़मगढ़। मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने शनिवार को आज़मगढ़ विकास प्राधिकरण के कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने प्राधिकरण क्षेत्र में बिना नक्शा पास कराये किए जा रहे निर्माण के खिलाफ कार्रवई करने तथा ग्रीन लैंड में बने आवासों को सील करने का निर्देश दिया।

 

उन्होंने कहा कि प्राधिकरण की परिधि में बिना नक्शा पास कराये दो बड़े निर्माण कार्य प्रगति पर होना संज्ञान में आया है। दोनों निर्माण कार्यों तत्काल बन्द कराते हुए सील किया जाय, इसमें किसी भी प्रकार का विलम्ब नहीं होना चाहिए तथा इस मामले में एफआईआर भी दर्ज कराई जाय। सचिव विकास प्राधिकारी को निर्देशित किया कि नदी में जो निर्माण कार्य हुआ है उससे नदी का प्रवाह प्रभावित हो रहा है, उसे तुरन्त गिराया जाय। प्राधिकरण की इनकम बढ़ाने के स्रोत पर भी विशेष ध्यान देने की जरूरत है। इसके अलावा आय का कुछ अंश निर्धारित कर उससे उचित स्थानों पर सौन्दर्यीकरण का कार्य भी किया जाय।
उन्होंने कहा कि कतिपय निर्माण कार्यों के सम्बन्ध में इस आशय की भी शिकायत मिली है कि आवासीय निर्माण का नक्शा पास करा कर उसे कामर्शियल में परिवर्तित कर लिया गया है। उन्होंने निर्देश दिया कि इसका भलीभांति मुआयना कर लें यदि कहीं इस प्रकार का मामला प्रकाश में आता है तो सम्बन्धित के विरुद्ध कार्यवाही की जाय। जो नक्शे पास किये जायें, उसको मौके पर जाकर जरूर देखें।
जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह ने निर्देश दिया कि कहीं भी अवैध प्लाटिंग नहीं होनी चाहिए, इसके लिए सतर्क नज़र रखी जाये। जब भी ध्वस्तीकरण के लिए जायें तो पूरी तैयारी के साथ जायें, यदि फोर्स की जरूरत हो तो अवगत करायें, पर्याप्त संख्या में पुलिस बल उपलब्ध कराया जायेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned