BIG BREAKING शिवपाल की पार्टी का ऐलान, इस दिन कई दिग्गज होंगे शामिल, संगठन की होगी घोषणा

शिवपाल यादव ने राष्ट्रीय स्तर पर पदाधिकारियों की पहली लिस्ट जारी की

आजमगढ़. आने वाला 15 दिन यूपी की राजनति में बेहद उथल पुथल वाला हो सकता है और इस दौरान सबसे अधिक नुकसान समाजवादी पार्टी को उठाना पड़ेगा। कारण कि उपेक्षित समाजवादियों को सम्मान दिलाने के लिए शिवपाल यादव द्वारा बनाये गए सेक्युलर मोर्चे के विस्तार का काम शुरू हो गया है। प्रदेश से लेकर जिले तक के पदाधिकारियों की घोषणा और कमेंटियों का गठन 15 दिन में हो जाएगा। यही नहीं आने वाले दिनों में मोर्चे को राजनीतिक दल के रूप में भी परिवर्तित किया जा सकता है। शिवपाल यादव के इस कदम से सपा में हलचल साफ दिख रही है।

यह भी पढ़ें-

यूपी की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगा समाजवादी सेक्युलर मोर्चा

 

बता दें कि समाजवादी पार्टी में निरंतर उपेक्षा और पारिवारिक कलह के कारण हाल में पूर्व मंत्री शिवपाल यादव ने समाजवादी सेक्युलर मोर्चे का गठन किया है। उन्होंने गठन के समय ही दावा किया था कि इस मोर्चे में सपा सहित अन्य दलों के उपेक्षित नेताओं को जगह दी जाएगी। 11 सितंबर को यादव सम्मेलन में शिवपाल यादव को जिस तरह का समर्थन मिला और जिलों से जिस तरह लोग उनके साथ खड़े हो रहे हैं उससे उन्हें और भी बल मिला है। बुधवार को शिवपाल यादव ने राष्ट्रीय स्तर पर पदाधिकारियों की पहली लिस्ट जारी की। इसकें आजमगढ़ के रहने वाले लखनऊ विश्व विद्यालय के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष एवं पूर्व अध्यक्ष समाजवादी युवजन सभा अभिषेक सिंह आंशू को राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया है। आंशू को शिवपाल का बेहद करीबी माना जाता है और शिवपाल यादव द्वारा यह बड़ी जिम्मेदारी देने से अभिषेक के समर्थक बेहद खुश है।

 

जिले के कुछ यादव नेता भी फेसबुक पर खुलकर मोर्चे का समर्थन कर रहे है। मोर्चे के भविष्य की योजना के बारे में जब अभिषेक सिंह से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि अगले 15 दिन हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है इस अवधि में स्थित काफी हद तक साफ हो जाएगी। अगले सात दिन में मोर्चे के राष्ट्रीय और प्रदेश इकाई का गठन कर पदाधिकारियों की घोषणा कर दी जाएगी। इसके बाद अगले सात दिन में जिला स्तर तक की इकाई का गठन कर दिया जाएगा। यानि अगले 15 दिन में जिला इकाई तक का गठन हो जाएगा। इसके बाद तहसील, ब्लॉक और बूथ लेबल तक काम किया जायेगा।

 

उन्होंने कहा कि आज समाजवादी पार्टी अपनी समाजवादी विचारधारा से भटक गयी है। हम मोर्चे का गठन कर समाजवादी विचारधारा को आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं। ऐसा पहले भी हुआ है कांग्रेस में रहते हुए सोसिलिस्ट का गठन कर लोगों ने कांग्रेस की गलत नीतियों का विरोध किया है। हम जनता और समर्थकों के अपेक्षा को ध्यान में रखकर समाजवादी विचारधारा को आगे बढ़ाने की दिशा में कदम बढ़ा चुके हैं। ऐसे समाजवादी जो उपेक्षित है उन्हें संगठन से जोड़ा जा रहा है। जनता के मन और कार्यकर्ताओं के विचार को देखते हुए आगे मोर्चे को दल में बदला जा सकता है।
By- Ranvijay Singh

Show More
sarveshwari Mishra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned