पड़ताल: हजारों किसानों को फसल सूखने का डर, अधिकारी बोले- चोरी हो रहा नहर का पानी

पड़ताल: हजारों किसानों को फसल सूखने का डर, अधिकारी बोले- चोरी हो रहा नहर का पानी

Rahul Chauhan | Publish: Jun, 22 2019 05:23:37 PM (IST) | Updated: Jun, 22 2019 05:38:24 PM (IST) Bagpat, Bagpat, Uttar Pradesh, India

खबर की मुख्य बातें-

-अधिकारियों की मानें तो बागपत जनपद को 795 क्यूसेक पानी की आवश्यकता है

-इसके सापेक्ष बागपत को 103 क्यूसेक पानी ही मिला हुआ है

-अधिकारियों के मुताबिक बागपत को मिलने वाला पानी शामली में चोरी किया जा रहा है

बागपत। आपने तरह-तरह की चोरी के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या कभी सुना है कि नहर का पानी चोरी हो गया। ऐसा ही एक मामला बागपत जिले में सामने आया है। दरअसल, जनपद में पूर्वी यमुना नहर में पानी न आने के कारण हजारों किसान खेत की सिंचाई तक नहीं कर पा रहे हैं। किसानों की शिकायत है नहर में पानी जल्द से जल्द छोड़ा जाए अन्यथा उनकी फसल सूख जाएंगी और वह बर्बादी की कगार पर होंगे। शासन से लेकर प्रशासन तक को उन्होंने अवगत कराया है। बावजूद उसके किसानों को पानी नहीं मिल पा रहा। किसानों की इस शिकायत की पत्रिका ने जब पड़ताल करने के लिए जब पूर्वी यमुना नहर का दौरा किया तो मामला सही पाया गया।

यह भीपढ़ें : बच्चों में दिखें चमकी बुखार के ये लक्षण तो ऐसे बचाएं जान

अधिकारियों की मानें तो बागपत जनपद को 795 क्यूसेक पानी की आवश्यकता है। इसके सापेक्ष बागपत जनपद को ऊपर से केवल 300 क्यूसेक पानी ही दिखाया गया है। जो फजलपुर डिवीजन से छोड़ा गया है, लेकिन जनपद में पानी की स्थिति जब हमने देखी तो 103 क्यूसेक पानी ही जनपद को मिला हुआ पाया। इसका कारण जब सिंचाई विभाग के अधिकारियों से जानना चाहा तो उनका कहना था कि बागपत को मिलने वाला पानी शामली में चोरी किया जा रहा है। जिसके कारण बागपत में पानी की किल्लत है।

यह भी पढ़ें : Bike Bot ने दूसरी कंपनियों को डायवर्ट किया 650 करोड़, 8.75 करोड़ की 27 लग्जरी कार और 102 बाइक सीज

उनकी इस बात पर आपको भी हैरानी गो रही होगी, क्योंकि सिचाई विभाग अगर अपने पानी की रक्षा नहीं कर पा रहा तो आखिर कौन करेगा। इसकी पड़ताल की गई तो कागजों में पानी की पूर्ति सिंचाई विभाग द्वारा की जा रही थी। वहीं मीडिया टीम के पहुंचने के बाद अधिकारियों में हड़कंप मच गया। सिंचाई विभाग के आला अधिकारी तुरंत पूर्वी यमुना नहर पर पहुंचे और मुजफ्फरनगर से लेकर फजलपुर डिवीजन तक सभी को पानी की स्थिति से अवगत कराया।

जिसके बाद उन्होंने आश्वासन दिया है कि ऊपर से चोरी हो रहा पानी जल्द से जल्द बंद करा कर बागपत के किसानों तक पहुंचाया जाएगा। हालांकि यह पानी कब तक बागपत पहुंचेगा और किसानों को कब मिल पाएगा इसका जवाब अधिकारी नहीं पाए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned