Kafan Thief in Baghat : हे भगवान कितना गिरेगा इंसान, बागपत में पकड़े गए कफन चोर

Kafan Thief in Baghat : श्मशान घाट से चुराते थे मुर्दों के कपड़े, सात चोरों से सैकड़ों कफन बरामद, कफन चुराने के लिए 300 दिहाड़ी पर मजदूर रखा था

By: Hariom Dwivedi

Published: 09 May 2021, 06:41 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
बागपत. Kafan Thief in Baghat : कोविड काल में एक ओर जहां पूरा देश आफत में गुजर रहा है। हर किसी के घर किसी न किसी के ऊपर संकट है वहीं, बागपत में पुलिस ने ऐसे सात लोगों को गिरफ्तार किया है जो श्मशान घाट से मुर्दों के कफन चोरी कर बाजार में बेच देते थे। पुलिस ने इनके पास से सैकड़ों कफन बरामद किया है। मानवता को शर्मशार कर देने वाली इस घटना का घिनौना सच यह है कि इस गैंग के सरगना ने कफन चुराने के लिए 300 दिहाड़ी पर मजदूर रखा था।

गिरफ्तार चोरों ने बताया कि श्मशान घाट से मुर्दों के कफन चोरी कर वह उन्हें प्रेस करके दोबारा बाजार में बेच देते थे। इस काम में श्मशान घाट के कर्मचारी उनकी मदद करते थे। उनके इस कृत्य से कोरोनावायरस के फैलने का खतरा बढ़ गया है। सातों आरोपियों ने बताया कि इन दिनों एक के बाद एक शव कब्रिस्तान पहुंच रहे हैं। वे श्मशान घाट से इन कफन को चोरी कर लेते थे। फिर इन पर प्रेस करके इन पर ग्वालियर का मार्का लगाते थे। इसके बाद कफन को बाजार में बेचते थे। ग्वालियर मार्का लगा होने की वजह से उन्हें अच्छे दाम मिल जाते थे। गैंग में एक कपड़ा व्यापारी, उसका बेटा और भतीजा शामिल हैं। इनके साथ उनकी दुकान पर काम करने वाले 4 कर्मचारी और अंत्येष्टि स्थलों पर मजदूरी करने वाले लोग भी जुड़े हैं। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें : 93 फीसदी लोगों में 5 महीने में ही खत्म हो गई एंटीबॉडी, संक्रमितों में जल्‍द बन रही एंटीबॉडी

कफन की करते थे रिपैकिंग
गिरोह कफन की रिपैकिंग कर इन्हें बेच देता था। एक कफन की कीमत 400 रुपए ली जाती थी। पकड़े गए आरोपियों में बड़ौत के नई मंडी में रहने वाला प्रवीण जैन, उसका बेटा आशीष जैन और भतीजा ऋषभ जैन, छपरौली के सबगा गांव का श्रवण कुमार शर्मा शामिल हैं। इनके अलावा राजू शर्मा, बबलू और शाहरूख को भी पकड़ा गया है। ये सभी कपड़ा व्यापारी हैं। आरोपियों पर धारा-144 का उल्लंघन और महामारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। बड़ौत पुलिस इस गैंग के पास से सैकड़ों कफन बरामद किए हैं। इसके पहले बागपत पुलिस ने एक दिन पहले एक कथित पुरोहित समेत दो लोंगों के गिरफ्तार किया था जो गंगा किनारे घाट पर अंतिम संस्कार के एवज में 15-15 हजार रुपये वसूल रहे थे।

यह भी पढ़ें : भाजपा सांसद के बाद अब केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने कहा- यूपी में मेडिकल इक्विपमेंट की मची है लूट

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned