सोचा नहीं था कि शादी में रास्ता नहीं देने पर चुकाना होगी इतनी बड़ी कीमत

शादी में रास्ता नहीं देने पर उपजी रंजिश के कारण एक वृद्ध को जिंदगी से हाथ धोना पड़ा। मंगलवार को पुलिस ने टोडामीणा में 11 माह पहले हुए वृद्ध के हत्याकांड का पर्दाफाश कर कांड को अंजाम देने वाले दो आरोपी महेंद्र उर्फ महफू (19) निवासी गुआमाला की ढाणी तन टोडामीणा व प्रहलाद उर्फ नारू मीणा (19) निवासी कांकरिया की ढाणी तन टोडामीणा को गिरफ्तार किया है।

By: Ashish Sikarwar

Published: 15 Sep 2020, 08:50 PM IST

जयपुर/जमवारामगढ़. शादी में रास्ता नहीं देने पर उपजी रंजिश के कारण एक वृद्ध को जिंदगी से हाथ धोना पड़ा। मंगलवार को पुलिस ने टोडामीणा में 11 माह पहले हुए वृद्ध के हत्याकांड का पर्दाफाश कर कांड को अंजाम देने वाले दो आरोपी महेंद्र उर्फ महफू (19) निवासी गुआमाला की ढाणी तन टोडामीणा व प्रहलाद उर्फ नारू मीणा (19) निवासी कांकरिया की ढाणी तन टोडामीणा को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दोनों को न्यायालय में पेश किया जहां से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया है।
प्राप्त जानकारी अनुसार 4 व 5 अक्टूबर 2019 की रात देवीलाल पुत्र मांगीलाल मीना खुद की चक्की में रोज की भांति सो रहा था। अलसुबह पड़ोसी दुकानदार मुकेश मीना चाय देने पहुंचा तो वह लहलूहान अचेत पड़ा था। उसके एक हाथ की अंगुली कटी हुई थी और खून जमीन पर गिर सूख चुका था। सूचना पर परिजन एसएमएस अस्पताल के ट्रोमा सेंटर ले गए, लेकिन उसी दिन देरशाम इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मौत के बाद उसके पुत्र माधोलाल मीना ने अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध पिता की हत्या का मामला दर्ज कराया था।

 

ऐसे आए पकड़ में
पुलिस अधीक्षक जयपुर ग्रामीण शंकरदत्त शर्मा ने बताया कि कांड के बाद जुलाई 2020 में एएसपी मुख्यालय ज्ञानचंद के नेतृत्व में विशेष जांच दल गठित किया गया। पुलिस ने टोडामीणा व आसपास के इलाके के बदमाशों की सूचना जुटाई व जांच में साइबर सेल की मदद ली। पुलिस ने लूट व अवैध शराब के मामले में महेंद्र व साथी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। पुलिस को आरोपियों की गतिविधियां संदिग्ध लगने पर कांड के बारे में जानकारी जुटाईं तो शक होने पर महेंद्र को कोर्ट से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर सख्ती से पूछताछ की। इस पर महेंद्र टूट गया और वृद्ध पर साथी प्रहलाद उर्फ नारू के साथ रात को चक्की में सोते हुए फंटे व लाठी से हमला करना स्वीकार कर लिया।

 

प्रतिशोध के चलते उतारा मौत के घाट
शर्मा ने बताया कि देवीलाल मीना व गुआमाला की ढाणी टोडामीणा निवासी हरिनारायण मीणा के परिवार में रास्ते को लेकर विवाद था। हरिनारायण ने देवीलाल की जमीन किराये पर लेकर फसल बोई थी। समय पर किराया नहीं देने पर देवीलाल के परिजनों ने ट्रैक्टर से खड़ी फसल हांक दी थी। इसके बाद देवीलाल के परिवार ने खुद की जमीन में हरिनारायण के मकान के सामने पांच दुकानें बना ली और रास्ता पत्थर डालकर बंदकर दिया। इससे महेंद्र कुंठित था। मई में ही गिरफ्तार महेंद्र की शादी के दौरान भी रास्ता नहीं देने पर रिश्तेदारों को दूसरे रास्तों से आना-जाना पड़ा था। इससे महेंद्र और गुस्सा हो गया। प्रतिशोध की ज्वाला में जल रहे महेंद्र व साथी प्रहलाद के साथ चक्की पर सो रहे देवीलाल पर फंटे व लाठी से वार करके मौत के घाट उतार दिया।

 

पुलिस के विरुद्ध दिया था धरना
हत्या के बाद ग्रामीणों ने पुलिस अधीक्षक से मिलने के बाद कांड के खुलासे की मांग की थी। 5 दिसंबर 2019 को पूर्व विधायक जगदीश मीना व भाजपा नेता महेंद्र पाल मीना के साथ सैकड़ों लोगों ने थाने का घेराव करके प्रदर्शन किया था। तब एसपी ने कांड का पर्दाफाश करने का भरोया लिया था।

 

कई टीमों को सौंपी जांच
कांड की जांच सबसे पहले तत्कालीन थानाधिकारी एकताराज मीना के पास थी। इसके बाद सीओ लाखनसिंह मीना को दी गई। धरने के बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात जयपुर ग्रामीण सुलेश चौधरी को सौंपी। इसके बाद जुलाई 2020 में एएसपी मुख्यालय ज्ञानचंद यादव के नेतृत्व में विशेष जांच दल गठित किया गया। इसमें सीओ लाखन सिंह, थानाधिकारी नरेंद्र कुमार, गोविंदगढ़ थानाधिकारी रामकिशोर शर्मा, सायबर सेल के हेड कांस्टेबल शंकर, कांस्टेबल रामस्वरूप व पृथ्वीराज को शामिल किया।

 

पदोन्नति की करेंगे सिफराशि
एसपी ने दल में शामिल एएसपी यादव, सीओ जमवारामगढ़ मीना, थानाधिकारी कुमार, थानाधिकारी गोविंदगढ़ शर्मा को पुलिस मुख्यालय स्तर पर सम्मानित करवाने व विशेष भूमिका निभाने वाले साइबर सेल के हेड कांस्टेबल शंकरलाल, जमवारामगढ़ थाने के कांस्टेबल रामस्वरूप व चंदवाजी के कांस्टेबल पृथ्वीराज को विशेष पदोन्नति की सिफारिश करने का भरोसा दिया।

 

टोडामीणा हत्याकांड में दो आरोपियों को गिरफ्तार करके पर्दाफाश किया है। यह ब्लांइड मर्डर था। इसे खोलने मे पुलिस टीम को कड़ी मेहनत करनी पड़ी है। टीम के तीन जवानों को बतौर पारितोषिक विशेष पदोन्नति की सिफारिश की जाएगी।
शंकरदत्त शर्मा, पुलिस अधीक्षक जयपुर ग्रामीण

Show More
Ashish Sikarwar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned