महंगाई का लोगों ने जताया विरोध,बंद रखी दुकानें

महंगाई का लोगों ने जताया विरोध,बंद रखी दुकानें

Ashish Pandey | Publish: Sep, 10 2018 09:24:43 PM (IST) Betul, Madhya Pradesh, India

महंगाई का लोगों ने भरपूर विरोध जताया। समर्थन में सुबह से ही दुकानें बंद रखी। कांग्रेसियों द्वारा सोमवार पेट्रोल-डीजल के बढ़ते हुए दाम और महंगाई के विरोध में दोपहर तक बंद का आव्हान किया था।

बैतूल। महंगाई का लोगों ने भरपूर विरोध जताया। समर्थन में सुबह से ही दुकानें बंद रखी। कांग्रेसियों द्वारा सोमवार पेट्रोल-डीजल के बढ़ते हुए दाम और महंगाई के विरोध में दोपहर तक बंद का आव्हान किया था। प्रदर्शन के बाद राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन एडीएम को सौंपा। बंद के दौरान कांग्रेसियों के बीच विवाद भी हुआ। पुलिस बल भी चौक-चौराहों पर तैनात रहा।
पेट्रोल व डीजल के बढ़ते हुए दाम और महंगाई के विरोध में सोमवार कांग्रेसियों का दोपहर तक बंद पूरी तरह सफल रहा। व्यापारियों ने स्वयं ही अपनी दुकानें बंद रखकर महंगाई का विरोध जताया है। एक्का-दुक्का दुकानें खुली रही,जिसे कांग्रेसियों ने बंद कराया है। दुकानें बंद होने से लोगों को चाय-पान तक के लिए परेशान होना पड़ा। कृषि मंडी और पेट्रोल पंप भी बंद रहे। जिससे लोग खासे परेशान हुए। बंद को लेकर सुबह से ही कांगे्रसी सक्रिय रहे। पूर्व विधायक राजनारायण सिंह पुरनी, प्रवक्ता रवि सक्सेना, जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनील शर्मा और कार्यकर्ताओं ने सुबह के समय रैली निकालकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद दोपहर में एक बजे कलेक्टोरेट ज्ञापन देने पहुंचे। ज्ञापन लेने तहसीलदार और फिर एसडीएम पहुंचे। दोनों को ही कांग्रेसियों ने ज्ञापन देने से इंकार कर दिया। कलेक्टर को ज्ञापन देने की मांग को लेकर नारेबाजी की। अध्यक्ष सुनील शर्मा पूर्व विधायक विनोद डागा,पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सिद्धीक पटेल, हेमंत पगारिया के नेतृत्व में राष्ट्रपति के नाम एडीएम मूलचंद वर्मा को ज्ञापन सौंपा गया।
बंद के दौरान आपस में भिड़े कांग्रेसी
बंद के दौरान कांग्रेसी अलग-अलग घूम रहे थे। कांग्रेस नेता निलय डागा के साथ ही पूर्व बैतूल जनपद अध्यक्ष नरेन्द्र वर्मा भी थे। कांग्रेसी जब कोठीबाजार स्थित पेट्रोल पंप पर पहुंचे तो यहां मोटरसाइकिल को पैर मारने को लेकर विवाद हो गया। निलय और नरेन्द्र के बीच विवाद होने लगा। मामला गाली-गलौज और हाथापाई तक पहुंच गया। मौके पर उपस्थित कांग्रेसियों ने बीच-बचाव किया। जिसके बाद मामला शांत हुआ। विवाद सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। जिसका वीडियो भी वायरल हो गया। कांग्रेस नेता निलय ने बताया कि कार्यकर्ताओं को समझाइश दे रहे थे। कोई विवाद नहीं हुआ है। पूर्व जनपद अध्यक्ष वर्मा ने बताया मोटरसाइकिल को धक्का लगने से बहस हो गई थी। छोटी-मोटी बात थी। ऐसा कोई बड़ा विवाद नहीं है।

 

Ad Block is Banned