script कक्षा 10 वीं की परीक्षा 5 से-133 केन्द्रों में 22308 विद्यार्थी हल करेंगे हिंदी विषय का पर्चा | 22308 students will solve Hindi subject paper in 133 centres. | Patrika News

कक्षा 10 वीं की परीक्षा 5 से-133 केन्द्रों में 22308 विद्यार्थी हल करेंगे हिंदी विषय का पर्चा

locationबालाघाटPublished: Feb 04, 2024 09:44:09 pm

Submitted by:

Bhaneshwar sakure

परीक्षा आयोजन को लेकर केन्द्रों में हुई तैयारियां पूरी
नकल रोकने के लिए उडऩदस्ता दल का किया गया गठन

04_balaghat_101.jpg

बालाघाट. बोर्ड कक्षा दसवीं की परीक्षा 5 फरवरी से प्रारंभ हो जाएगी। परीक्षा के लिए 133 केन्द्र बनाए गए हैं। 5 फरवरी को जिले के 22308 विद्यार्थी हिन्दी विषय का पहला पर्चा हल करेंगे। नकल रोकने के लिए उडऩदस्ता दलों का गठन किया गया है। संवेदनशील केन्द्रों में भी उडऩदस्ता दलों की विशेष निगाहें रहेगी। सुबह 9 बजे से लेकर 12 बजे तक विद्यार्थी अपना-अपना पर्चा हल करेंगे। परीक्षा के संचालन के लिए माध्यमिक व प्राथमिक शाला के शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। शिक्षकों को परीक्षा संचालन संबंधी सभी आवश्यक दिशा-निर्देश दे दिए गए है। परीक्षा आयोजन को लेकर सभी केन्द्रों में आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। वहीं 6 फरवरी से कक्षा 12 वीं की परीक्षा शुरु होगी।
जानकारी के अनुसार माध्यमिक शिक्षा मंडल से आयोजित हाई स्कूल बोर्ड परीक्षा 5 फरवरी को सुबह 9 से 12 बजे तक होगी। इस परीक्षा में जिले से 20794 नियमित विद्यार्थी और 1514 स्वाध्यायी छात्र-छात्राएं शामिल होंगे। परीक्षा प्रारंभ होने के पूर्व संबंधित थानाओं से केन्द्राध्यक्ष पुलिस व कलेक्टर प्रतिनिधि के मौजूदगी में पेपर को केन्द्र तक लेकर आएंगे। वहीं 6 फरवरी से हायर सेकेंडरी स्कूल परीक्षा प्रारंभ होगी। इस परीक्षा के लिए जिले भर में 119 केंद्र बनाए गए हैं। जिसमें 16791 नियमित और 1437 स्वाध्यायी विद्यार्थी शामिल होंगे।
25 उडऩदस्ता दल का हुआ गठन
बोर्ड कक्षाओं की परीक्षा में नकल को रोकने के लिए प्रशासन ने उडऩदस्ता दल का भी गठन किया है। दल का गठन कलेक्टर के निर्देश पर किया गया है। जिसमें एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, जिला शिक्षा अधिकारी की टीम सहित 25 दल का गठन किया गया है। यह उडऩदस्ता दल परीक्षा केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण कर न केवल वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लेगी। बल्कि परीक्षा के दौरान अनुचित साधनों को रोकने का भी प्रयास करेगी।
तीन संवेदनशील केन्द्र
माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल के निर्देशानुसार इस वर्ष भी जिले में तीन संवेदनशील परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। तीनों ही केन्द्र जिला मुख्यालय में मौजूद है। जिसमें शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय, शासकीय महारानी लक्ष्मी बाई कन्या विद्यालय और एमजीएम स्कूल बालाघाट शामिल है। इन केन्द्रों में उडऩदस्ता दलों की विशेष निगाहें रहेगी। माशिमं के निर्देशानुसार इन तीनों ही शालाओं को निजी, प्रायवेट स्कूलों के बच्चों के लिए परीक्षा केन्द्र बनाया गया है।
सुबह 8.30 बजे विद्यार्थियों का उपस्थित होना अनिवार्य
परीक्षा केन्द्र में विद्यार्थियों को परीक्षा कक्ष में सुबह 8.30 बजे उपस्थित होना अनिवार्य किया गया है। सुबह 8.45 के बाद किसी भी परीक्षार्थी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षा प्रारंभ होने के 10 मिनट पूर्व यानी 8.50 बजे उत्तर पुस्तिका और 8.55 बजे प्रश्न पत्र का वितरण किया जाएगा।

ट्रेंडिंग वीडियो